• Breaking News

    योनो ऐप की आड़ में ग्राहकों का किया जा रहा हेल्थ इन्श्योरेंस | #NayaSaberaNetwork



    नया सबेरा नेटवर्क
    ग्राहक को बिना बताये बैंककर्मी धोखे से कर रहे इन्श्योरेंस
    बगैर बताये ग्राहक का इन्श्योरेंस करना गलत हैः शाखा प्रबंधक
    चन्दवक, जौनपुर। स्थानीय क्षेत्र के बजरंग नगर में स्थित स्टेट बैंक आफ इण्डिया शाखा बजरंगनगर पर योनो एप इंस्टाल करने तथा ओटीपी मांग करके ग्राहकों से ऐप को सक्रिय करने की बात कहकर कमीशनखोरी के चक्कर में गरीब ग्राहकों से वसूली की जा रही है। पीड़ित उमेश कुमार अपना केवाईसी कराने एसबीआई शाखा बजरंगनगर पहुंचे तो वहां के एक पुरुष कर्मचारी ने योनो एप को चालू करने के लिये लिंक मोबाइल नम्बर का ओटीपी मांग कर बिना बताये ही 1300 का हेल्थ इन्श्योरेंस कर दिया। घर आने के बाद जब उमेश ने मोबाइल को पुनः चेक किया तो देखा उनका पैसा खाते से डेबिट हो चुका था। इसकी शिकायत जब उस कर्मचारी से की तो वह शाखा प्रबंधक से बात करने की बात करने पर जोर दिया। पीड़ित के अनुसार बात 1300 रूपये कि नहीं है, बल्कि बात बिना जानकारी दिये धोखे से योनो को सक्रिय करने के नाम पर ओटीपी लेकर हेल्थ इन्श्योरेंस करने की है। जब इन्श्योरेंस कैंसिल करने के दिशा निर्देश को जानने का प्रयास किया गया तो बताया गया कि देर होने पर 50 प्रतिशत धन वापसी के क्लेम के लिये आवेदन हो सकता है। इस पर शाखा प्रबंधक अभय प्रताप का कहना है कि एसबीआई योनो एप की जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों को बताना है। हेल्थ इन्श्योरेंस का कार्य पहले बैंक कर्मचारी बिना ओटीपी के कर देते थे जिससे इसकी जानकारी बाद में होने पर ग्राहक पैसे का फ्राड होने के डर से काफी परेशान हो जाते थे, इसीलिये एसबीआई ने योनो ऐप द्वारा एक ओटीपी का सिस्टम जारी कर दिया, ताकि किसी भी ग्राहकों का इन्श्योरेंस उनके बिना जानकारी के न हो सके। बिना जानकारी दिये किसी भी तरह का इन्श्योरेंस करने का कोई प्राविधान नहीं है। यदि ऐसा कोई भी बैंक कर्मचारी कर रहा तो वह गलत है। वहीं कुछ लोंगों का आरोप है कि शाखा में नया खाता खोलने पर 1300 का हेल्थ इन्श्योरेंस या फिर इससे ऊपर का हेल्थ इन्श्योरेंस ग्राहक द्वारा खाते में पैसे डालकर कराया जाता है जिस पर शाखा प्रबंधक अभय प्रताप ने कहा कि नये खाते खुलवाने के समय या बाद में ग्राहक को किसी तरह का जबरन इन्श्योरेंस करने का कोई दिशा निर्देश नहीं है। ग्राहक अपनी स्वेच्छा से ही किसी तरह का इन्श्योरेंस करा सकते हैं।


    No comments