• Breaking News

    पांड्या-पंत की साझेदारी के कायल हुए पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ी, बोले- कैफ और युवी की याद दिला दी





    नई दिल्ली. पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर दानिश कनेरिया ने मैनचेस्टर वनडे में हार्दिक पांड्या और ऋषभ पंत की साझेदारी की जमकर सराहना की है. उन्होंने इस साझेदारी को साल 2002 में हुए नेटवेस्ट ट्रॉफी के फाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ युवराज सिंह और मोहम्मद कैफ की पार्टनरशिप से जोड़ा है. उन्होंने कहा है कि 20 साल पहले भी भारत को इसी तरह दो युवाओं ने सीरीज में जीत दिलाई थी.कनेरिया ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर कहा, 'ऋषभ पंत की पारी ने मुझे नेटवेस्ट ट्रॉफी फाइनल में युवराज और कैफ की साझेदारी की याद दिला दी. वहां भी टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज जल्द ही पवेलियन लौट गए थे और उसके बाद युवा खिलाड़ियों ने ही टीम को जीत दिलाई थी. पांड्या और पंत ने इस मैच में उसी तरह की महत्वपूर्ण साझेदारी की. इन दोनों ने इंग्लैंड की गेंदबाजी आक्रमण को तोड़ डाला.मैनचेस्टर में खेले गए वनडे में भारतीय टीम को 260 रन का लक्ष्य मिला था. जवाब में भारतीय टीम ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 38 रन पर ही अपने तीन विकेट गंवा दिए थे. 72 रन तक आते-आते चौथा विकेट भी गिर गया था. यहां से ऋषभ पंत (125) और हार्दिक पांड्या (71) ने 133 रन की साझेदारी कर टीम इंडिया को जीत का रास्ता दिखाया. टीम इंडिया जब 205 रन पर थी तो हार्दिक पांड्या अपना विकेट गंवा बैठे लेकिन पंत का बल्ला चलता रहा. पंत टीम इंडिया को मैच जीताकर ही पवेलियन लौटे.आज से 20 साल पहले इंग्लैंड में नेटवेस्ट ट्रॉफी के फाइनल में भी कुछ इसी तरह की परिस्थिति बनी थी. तब टीम इंडिया ने 326 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 146 रन पर 5 विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद कैफ और युवी ने 121 रन की साझेदारी कर टीम को जीत की उम्मीद दी थी. भारत ने आखिरी ओवर में यह मुकाबला जीता था.

    No comments