• Breaking News

    महिला शक्ति केंद्र की त्वरित कार्रवाई से रुका बाल विवाह | #NayaSaberaNetwork

    नया सबेरा नेटवर्क
    परिवार वालों ने ली 18 वर्ष के बाद शादी कराने की शपथ                                                      
    जौनपुर। बाल विवाह यह शब्द सुनने में भले ही अजीब लगे लेकिन इसके लिए प्रयास करने वालों को उस समय शर्मिंदा होना पड़ा जब मां-बाप को बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम में मिलने वाली सजा के बारे में विस्तार से समझाया गया। नतीजन, परिवार ने 18 वर्ष की उम्र पूरी हो जाने के बाद ही शादी करने की शपथ ली। मामला विकास खण्ड धर्मापुर क्षेत्र का है। जिला प्रोबेशन अधिकारी अभय कुमार के निर्देशन में अक्षय तृतीया पर महिला शक्ति केंद्र की टीम बाल विवाह निषेध के तहत अभियान चला रही थी। इसी दौरान क्षेत्र के एक गांव में बाल विवाह होने के बारे में जानकारी हुई। इस सूचना पर टीम मौके पर पहुंच गई। महिला शक्ति केंद्र की जिला समन्वयक बबीता ने बच्ची के माता पिता से बात की तो उन्होंने अपनी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने का हवाला दिया। कहा कि विवाह कर अपनी जिम्मेदारियों से मुक्त होना चाहता है। वहीं महिला कल्याण की जिला समन्वयक प्रतिभा सिंह ने बच्ची की इच्छा जानने की कोशिश की तो उसने शादी के प्रति अनिच्छा जताई। उससे पूछा कि आखिर क्यों तुम्हारा इतनी जल्दी विवाह किया जा रहा है? बच्ची ने कहा कि उसके माता-पिता चाहते हैं, इसलिए वह ऐसा कर रही है। उससे पूछा कि क्या आगे की पढ़ाई करना चाहती है? उसने पढ़ाई करने की इच्छा होने से इनकार कर सिलाई-कढ़ाई सीखने की इच्छा जताई। सभी से बात करने के बाद महिला शक्ति केंद्र की टीम ने बच्ची के परिवार को बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 के प्रावधानों के बारे में बताया साथ ही उसके अंतर्गत निर्धारित दंड की जानकारी दी। उन्हें बताया कि यदि आप बच्ची की शादी 18 वर्ष की उम्र से पहले करते हैं तो उसे कई तरह की शारीरिक और मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। बच्ची की शादी 18 वर्ष से कम उम्र में करने पर बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम के अंतर्गत आपके परिवार को दो वर्ष की जेल तथा एक लाख रु पये का जुर्माना लगाया जा सकता है। उन्हें सरकार की ओर से चलाई जा रहीं योजनाओं के बारे में जानकारी देकर आ·ास्त किया कि यदि वह बच्ची की शादी 18 वर्ष की उम्र के बाद करेंगे तो उन्हें शादी अनुदान के तहत सहायता दिलवाई जा सकती है। यह सुनकर माता-पिता ने काफी देर तक विचार-विमशर््ा किया। इसके बाद बोले। उन्हें बच्चियों की शादी 18 वर्ष की उम्र पूरी होने के बाद किए जाने के बारे में जानकारी नहीं थी। अब वह उसकी शादी 18 वर्ष की उम्र पूरी हो जाने के बाद ही करेंगे। इस समय बच्ची 16 वर्ष की है। उन्होंने शपथ ली कि बच्ची की शादी दो वर्ष बाद ही करेंगे।

    *Nehru Balodyan Sr. Secondary School | Kanhaipur, Jaunpur | Admission Open 2022-23 | 10+2 | Level | Contact- 9415234111, 9415349820, 9450089310 | Transport Incharge: 9554586608, 8736006564  | #NayaSaberaNetwork*
    Ad


    *D.B.S. Inter College | Shiv Mohan Singh (Founder) | ADMISSION OPEN Session: 2022-23 | Nursery to IX & XI | Kadipur, Ramdayalganj, Jaunpur | Contact- 9956972861, 9956973761 | Streams Available: Maths, Bio, Commerce & Humanities | Admission form Available At the School Office | E-mail: vsjnp10@gmail.com*
    Ad

    *एस.आर.एस. हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेन्टर स्पोर्ट्स सर्जरी डॉ. अभय प्रताप सिंह (हड्डी रोग विशेषज्ञ) आर्थोस्कोपिक एण्ड ज्वाइंट रिप्लेसमेंट ऑर्थोपेडिक सर्जन # फ्रैक्चर (नये एवं पुराने) # ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी # घुटने के लिगामेंट का बिना चीरा लगाए दूरबीन  # पद्धति से आपरेशन # ऑर्थोस्कोपिक सर्जरी # पैथोलोजी लैब # आई.सी.यू.यूनिट मछलीशहर पड़ाव, ईदगाह के सामने, जौनपुर (उ.प्र.) सम्पर्क- 7355358194, Email : srshospital123@gmail.com*
    Ad

    No comments

    Amazon

    Amazon