• Breaking News

    प्रशांत अनुभव प्रस्तुत करते हैं - दत्तात्रेय आपटे | #NayaSaberaNetwork


    प्रशांत अनुभव प्रस्तुत करते हैं - दत्तात्रेय आपटे   | #NayaSaberaNetwork


    नया सबेरा नेटवर्क
    कलाकार त्याग करता है, समझौता नहीं - कलिटा
    कोई भी कला संस्थान कलाकार नहीं बना सकता, सिर्फ तकनीकी दक्षता देता है।
    ओपन स्पेस के 17वें एपिसोड में प्रख्यात चित्रकार प्रशांत कलिटा और विशेष अतिथि के रूप में देश के जाने माने वरिष्ठ चित्रकार व प्रिंटमेकर दत्तात्रेय आप्टे भी शामिल हुए
    एक कलाकार अपने कृतियों के माध्यम से अपने अनुभवों को ही प्रस्तुत करता है। चाहे वह कोई भी माध्यम हो। यही आवश्यकता भी है। कलाकार त्याग करता है, समझौता नहीं। चाहे वह किसी भी प्रकार का समझौता हो। कला का विकास भी एक कलात्मक वातावरण में ही सम्भव हो सकता है।
    ज्ञातव्य हो कि अस्थाना आर्ट फ़ोरम के ऑनलाइन मंच पर ओपन स्पसेस आर्ट टॉक एंड स्टूडिओं विज़िट के 17वें एपिसोड का लाइव आयोजन इस बार शनिवार 11 सितंबर 2021 को सायं 3 बजे किया गया। इस एपिसोड में आमंत्रित कलाकार के रूप में देश के प्रख्यात चित्रकार प्रशांत कलिटा रहे। इनके साथ बातचीत के लिए नई दिल्ली से अक्षत सिन्हा क्यूरेटर व आर्टिस्ट और इस कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में वरिष्ठ चित्रकार , प्रिंटमेकर श्री दत्तात्रेय आप्टे भी विशेष रूप से शामिल हुए। कार्यक्रम ज़ूम मीटिंग द्वारा लाइव किया गया। कार्यक्रम के संयोजक भूपेंद्र कुमार अस्थाना ने बताया कि सच्चाई यह है कि एक अमूर्त पेंटिंग आपको चीजों को अलग तरह से देखने का सामना करती है। जो चीज इसे और अधिक चुनौतीपूर्ण बनाती है, वह यह है कि जिस तरह से यह पैटर्न से घिरा हुआ है, जो आपको एक दिशा में सोचने और सोचने की अनुमति नहीं देता है। प्रशांत ने अपने कला के क्षेत्र में आने से प्रारंभ से अब तक कि कला एवं जीवन यात्रा को साझा करते हुए कहा कि कोई भी कला संस्थान किसी को कलाकार नहीं बनाती, वह केवल तकनीकी दक्षता ही प्रदान कर सकती है। कलाकार अपने अनुभवों, अपने संघर्षों और निरंतर प्रयास से ही सम्भव होता है। और कला में कोई सार्टकट नहीं होता। कलाकार बनना एक क्रमिक प्रक्रिया है। विशेष अतिथि दत्तात्रेय आपटे ने कहा प्रशांत अपने कृतियों में अपने अनुभवों को प्रस्तुत करते हैं। एक कलाकार अपने जीवन से जुड़ी हुई हर स्थिति को अनुभव कर सकता है। जो महसूस करता है वही कलाकार अपने माध्यमों से प्रस्तुत करता है। यही आवश्यक भी है। प्रशांत कहते हैं कि कला स्वतंत्र होता है। इसे दायरे में नहीं बांटा जा सकता। सभी कलाओं को एक साथ एक मंच पर होना चाहिए। तभी लोग एक दूसरे से जुड़ सकते हैं। प्रशांत अपने चित्रों का निर्माण करते हुए बहुत प्रयोग करते हैं। चाहे वह टेक्सचर, सर्फेस, मैटेरियल हो । प्रशांत कहते हैं कि कोई भी चीज स्थाई नहीं है। आपटे जी ने कहा कि प्रशान्त कविताएं भी लिखते हैं । उनके कविताओं में भी इनके चित्रों की झलक मिलती है। कलाकार जिस वातावरण, परिस्थिति से होकर आता है वह सब कुछ न चाहते हुए भी उसके कृतियों में दिखते हैं। प्रशान्त के काम मे बहुत से सतहें होती हैं यह सतहें एक दूसरे को एक दूसरे से जोड़ती हैं। जिसे सपोर्टिव एलिमेंट्स कहते हैं। यह तहें कलाकार के विचारों की हैं। बहुत प्रयोग है प्रशान्त के काम में। उसके रंग उसके व्यक्तित्व से भी जुड़ा होता है। कोई भी विचार जब तक आपके मन मे है तब तक अमूर्त है, कैनवस पर आते ही वह मूर्तवान हो जाता है। अमूर्तन के वास्तविक परिभाषा को समझने की जरूरत है। अमूर्तन को हम शब्दों में नहीं बयां कर सकते लेकिन महसूस जरूर कर सकते हैं। कलाकार का संवाद लगातार अपनी कलाकृतियों से करता है। कलाकर्म एक आध्यत्मिक यात्रा है। प्रशान्त का संघर्ष लगातार होता रहता है मैटेरियल से, टेक्सचर से ,सर्फेस से।

    *एस.आर.एस. हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेन्टर स्पोर्ट्स सर्जरी डॉ. अभय प्रताप सिंह (हड्डी रोग विशेषज्ञ) आर्थोस्कोपिक एण्ड ज्वाइंट रिप्लेसमेंट ऑर्थोपेडिक सर्जन # फ्रैक्चर (नये एवं पुराने) # ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी # घुटने के लिगामेंट का बिना चीरा लगाए दूरबीन  # पद्धति से आपरेशन # ऑर्थोस्कोपिक सर्जरी # पैथोलोजी लैब # आई.सी.यू.यूनिट मछलीशहर पड़ाव, ईदगाह के सामने, जौनपुर (उ.प्र.) सम्पर्क- 7355358194, Email : srshospital123@gmail.com*
    Ad

    *Ad : ◆ सोने की खरीददारी पर शानदार ऑफर ◆ अब ख़रीदे सोना "जितना ग्राम सोना उतना ग्राम चांदी फ्री" ऑफर के साथ ◆ पूर्वांचल के सबसे प्रतिष्ठित ज्वेलरी शोरूम "गहना कोठी" से एवं पाए प्रत्येक 5000 तक की खरीद पर लकी ड्रॉ कूपन भी ◆ जिसमें आप जीत सकते हैं मारुति सुजुकी एर्टिगा ◆ मारुति सुजुकी स्विफ्ट एवं ढेर सारे उपहार ◆ तो देर किस बात की ◆ आज ही आएं और पाएं जबरदस्त ऑफर  ◆ 1. हनुमान मंदिर के सामने, कोतवाली चौराहा, 9984991000, 9792991000, 9984361313  ◆ 2. सद्भावना पुल रोड नखास, ओलन्दगंज, 9838545608, 7355037762*
    Ad

    *Ad : जौनपुर का नं. 1 शोरूम :  Agafya furnitures | Exclusive Indian Furniture Showroom | ◆ Home Furniture ◆ Office Furniture ◆ School Furniture | Mo. 9198232453, 9628858786 | अकबर पैलेस के सामने, बदलापुर पड़ाव, जौनपुर - 222002*
    Ad

    No comments