• Breaking News

    तिरंगा! | #NayaSaberaNetwork




    नया सबेरा नेटवर्क
    तिरंगा!

    मेरा अमर तिरंगा है,  मेरा  जिगर तिरंगा है।
    रग - रग में यही बसता,  ऐसा  ये तिरंगा है।

    मेरी आन  तिरंगा है,  मेरी  शान  तिरंगा  है,
    कोई दुश्मन  देखे  इसे, दहलाता  तिरंगा है।

    तेरा  भी   तिरंगा   है,  मेरा   भी  तिरंगा  है,
    तू नजर उठा के देख, नभ में भी  तिरंगा है।

    चाँद  पे   तिरंगा  है,   मंगल  पे   तिरंगा  है,
    दुश्मन को फतह  करता, ऐसा ये तिरंगा है।

    गोरों  को  भगाया  जो , वो  यही  तिरंगा है,
    महफूज़  रखे  ये  वतन,  ऐसा ये  तिरंगा है।

    गांधी का तिरंगा  है, बिस्मिल  का तिरंगा है,
    जिसने भी लुटाया लहू उसका भी तिरंगा है।

    प्राणों  से   प्यारा   है,   ऐसा   ये  तिरंगा  है,
    दुनिया  से  न्यारा  है,  ऐसा  ये   तिरंगा  है।

    हर लब पे उठे  जो  नाम,  ऐसा ये तिरंगा है।
    जन -जन के हृदय बसता,ये वही  तिरंगा है।

    मेरी नजर जहाँ जाती, हर जगह  तिरंगा है।
    कोई जगह बताए मुझे,जहाँ नहीं तिरंगा है।

    रामकेश एम.यादव (कवि,साहित्यकार),मुंबई

    *ग्राम पंचायत अधिकारी नरेंद्र राजपूत की तरफ से देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस एवं रक्षाबंधन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं*
    Ad

    *उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ, जौनपुर के जनपदीय संगठन मंत्री संतोष सिंह बघेल की तरफ से देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस एवं रक्षाबंधन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं*
    Ad

    *उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ, जौनपुर के जिला उपाध्यक्ष राजेश सिंह की तरफ से देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस एवं रक्षाबंधन की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं*
    Ad

    No comments