• Breaking News

    बचपन और बादशाहत | #NayaSaberaNetwork



    नया सबेरा नेटवर्क
    बचपन और बादशाहत

    बचपन में 
    हम अक्सर उड़ाया करते थे            
    अपनी जहाजें.....                      
    बारिश होते ही..... 
    पानी की जहाज/नाव भी
    हमेशा चलने को तैयार थी.... 
    कौवा ,तोता ,मैना तो
    उंगलियों के इशारे पर 
    उड़ा करते थे...... 
    कभी-कभार हम 
    हाथी,घोड़ा,गाय, गधे को भी 
    उड़ा दिया करते थे...... 
    खेल-खेल में और
    पल भर में ही ......
    राजा,वजीर, सिपाही और
    यहाँ तक कि चोर भी बन जाते थे    
    माँ के लिए हम राजा बेटा ही थे                   किस्से कहानी की शुरुआत भी                               
    राजा-रानी से .....           
    सपने में.... 
    राजकुमारी ही आती थी       
    परियों के देश में..... 
    हम सैर-सपाटा किया करते थे...
    माचिस की खाली डिब्बियों से          
    धागा जोड़कर........                        
    दूर-दूर के देशों में                                              टेलीफोन किया करते थे 
    दीवाली की दियली से
    तराजू बनाकर ......
    दुनिया भर की वस्तुएं 
    तौल दिया करते थे....
    उन दिनों हमें दूध-भात भी 
    चंदा मामा आकर खिलाते थे 
    सब की थाली में अपना हिस्सा था         
    आतुर रहते थे सभी,
    बच्चे, बड़े, बूढ़े...... 
    हमारे हाथों के लड्डू-बतासे,
    खेल-खिलौनों को पाने को 
    और हम.....
    अपनी इच्छा से 
    कभी ना ,कभी हाँ करते हुए          
    मुस्कुरा दिया करते थे                    
    इस "हाँ" और "ना" के समय 
    हमारी मुस्कान.......! 
    उनके लिए उपहार होती थी 
    कभी तीर-धनुष के साथ राम,          
    कभी मोरपंखी,बांसुरी के साथ        
    किशन कन्हैया.....और....
    कभी मुँह फुलाकर हम खुद ही
    हनुमान बन जाते थे....... 
    सोचिये कितना आसान था 
    उन दिनों.....
    हमारा भगवान भी बन जाना.....! 
    बचपन पर और क्या लिखे....?
    आप खुद ही, 
    अंदाजा लगा लीजिए
    बचपन में हमारी...... 
    अमीरी और बादशाहत का...!
    अमीरी और बादशाहत का...!



    जितेन्द्र कुमार दुबे 
    क्षेत्राधिकारी नगर 
    जनपद....जौनपुर


    *एस.आर.एस. हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेन्टर स्पोर्ट्स सर्जरी डॉ. अभय प्रताप सिंह (हड्डी रोग विशेषज्ञ) आर्थोस्कोपिक एण्ड ज्वाइंट रिप्लेसमेंट ऑर्थोपेडिक सर्जन # फ्रैक्चर (नये एवं पुराने) # ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी # घुटने के लिगामेंट का बिना चीरा लगाए दूरबीन  # पद्धति से आपरेशन # ऑर्थोस्कोपिक सर्जरी # पैथोलोजी लैब # आई.सी.यू.यूनिट मछलीशहर पड़ाव, ईदगाह के सामने, जौनपुर (उ.प्र.) सम्पर्क- 7355358194, Email : srshospital123@gmail.com*
    Ad

    *प्रवेश प्रारम्भ — निर्मला देवी फार्मेसी कॉलेज (AICTE, UPBTE & PCI Approved) कॉलेज कोड-4866 | नयनसन्ड, गौराबादशाहपुर, जौनपुर, उ0प्र0 | कोर्स — B.Pharma (Allopath), D.Pharma (Allopath) | द्विवर्षीय पाठ्यक्रम, योग्यता-इण्टर (बायो/मैथ) | Mob:- 8948273993, 9415234998 | निर्मला देवी पॉलिटेक्निक कॉलेज | कालेज कोड-4831 | नयनसण्ड, गौराबादशाहपुर, जौनपुर, उ0प्र0 | # इलेक्ट्रिकल इन्जीनियरिंग | # इलेक्ट्रिकल एण्ड इलेक्ट्रिानिक इन्जीनियरिंग| # सिविल इन्जीनियरिंग| # मैकेनिकल इन्जीनियरिंग ऑटोमोबाईल| # मैकेनिकल इन्जीनियरिंग प्रोडक्शन | # ITI अथवा 12 पास विद्यार्थी सीधे द्वितीय वर्ष में प्रवेश प्राप्त करें| मो. 842397192, 9839449646 | छात्राओं की फीस रू0 20,000 प्रतिवर्ष*
    Ad

    *Ad : ◆ सोने की खरीददारी पर शानदार ऑफर ◆ अब ख़रीदे सोना "जितना ग्राम सोना उतना ग्राम चांदी फ्री" ऑफर के साथ ◆ पूर्वांचल के सबसे प्रतिष्ठित ज्वेलरी शोरूम "गहना कोठी" से एवं पाए प्रत्येक 5000 तक की खरीद पर लकी ड्रॉ कूपन भी ◆ जिसमें आप जीत सकते हैं मारुति सुजुकी एर्टिगा ◆ मारुति सुजुकी स्विफ्ट एवं ढेर सारे उपहार ◆ तो देर किस बात की ◆ आज ही आएं और पाएं जबरदस्त ऑफर  ◆ 1. हनुमान मंदिर के सामने, कोतवाली चौराहा, 9984991000, 9792991000, 9984361313  ◆ 2. सद्भावना पुल रोड नखास, ओलन्दगंज, 9838545608, 7355037762*
    Ad

    No comments