• Breaking News

    जौनपुर जेल में बंदियो का तीन घंटे तक उपद्रव, आगजनी, तोड़फोड़ | #NayaSaberaNetwork

    जौनपुर जेल में बंदियो का तीन घंटे तक उपद्रव, आगजनी, तोड़फोड़  | #NayaSaberaNetwork



    नया सबेरा नेटवर्क
    आंसू गैस के गोले व ड्रोन कैमरे से पुलिस ने लिया मोर्चा
    आईजी, कमिश्नर सहित प्रशासनिक अमलों ने चार घंटे बाद काबू में लिया
    आजीवन कारावास की सजा काट रहे कै दी की इलाज के दौरान हुई मौत
    जौनपुर। जिला जेल में शुक्रवार को आजीवन कारावास की सजा काट रहे कैदी भागेष मिश्रा की मौत के बाद करीब तीन घंटे तक बंदियों ने जेल में कब्जा किया रखा और जमकर बवाल काटा। जिससे जेल में जंगलराज कायम हो गया। घटना की जानकारी मिलते ही डीएम मनीष कुमार वर्मा, एसपी राजकरन नैय्यर कई थानों की फोर्स के  साथ जेल के बाहर डटे रहे और ड्रोन कैमरे के जरिए अंदर के हालात का जायजा लेते रहे। करीब तीन घंटे केे बाद साहस कर भारी पुलिस बल जेल के अंदर दाखिल हुई तो अंदर का नजारा कुछ और दिखा। बंदियों ने जेल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए तोड़फोड़ किया था। बैरकों से बाहर आकर कैदियों ने जेल पर न सिर्फ कब्जा कर लिया था बल्कि आगजनी भी दिखाई पड़ी थी। पगली घंटी बजने के बाद पीएससी सहित कई थानों की फोर्स जेल के अंदर पहुंची। हालात बेकाबू होने पर पुलिस ने कैदियों को नियंत्रित करने के लिए कई राउंड आंसू गैस के गोले दागे। कैदियों ने गैस सिलिंडर को भी कब्जे में ले लिया था। बताया जा रहा है कि आक्रोशित बंदी और कैदी जेल के अंदर तोड़फोड़ करने के साथ ही पुलिस पर पथराव कर रहे थे। शाम करीब साढ़े छह बजे आईजी एसके भगत व कमिशनर मौके पर पहुंचे और हालात को किसी तरह काबू में कर लिया। फिलहाल पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिये गये हैं। मृतक कैदी के परिजनों ने जेल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाते हुए भाई अनिल मिश्रा का कहना है कि उनके भाई की तबियत पिछले तीन दिनों से खराब थी बावजूद इसके सुरक्षा के दृष्टिकोंण से जिला अस्पताल भेजने के लिए गार्ड नहीं मिल रहे थे। जब गार्ड मिले तब तक बहुत देर हो चुकी थी। जेलर एसके पांडेय का कहना है कि मृतक कैदी भागेष मिश्रा निवासी बनीडीह गांव का निवासी है और आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। मृतक की पत्नी कुसुम मिश्रा गांव की प्रधान हैं। शुक्रवार की सुबह 11 बजे निरीक्षण के दौरान जेल अस्पताल के डाक्टर ने बताया कि भागेष मिश्रा के सीने में दर्द है उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया है। जिसके बाद उसे जिला अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उनका यह कहना है कि मुआवजा लेने के लिए परिजन जेल प्रशासन पर ऐसे आरोप लगाते रहते हैं। 


    *Ad : जौनपुर टाईल्स एण्ड सेनेट्री | लाइन बाजार थाने के बगल में जौनपुर | सम्पर्क करें - प्रो. अनुज विक्रम सिंह, मो. 9670770770*
    Ad


    *Ad : ◆ सोने की खरीददारी पर शानदार ऑफर ◆ अब ख़रीदे सोना "जितना ग्राम सोना उतना ग्राम चांदी फ्री" ऑफर के साथ ◆ पूर्वांचल के सबसे प्रतिष्ठित ज्वेलरी शोरूम "गहना कोठी" से एवं पाए प्रत्येक 5000 तक की खरीद पर लकी ड्रॉ कूपन भी ◆ जिसमें आप जीत सकते हैं मारुति सुजुकी एर्टिगा ◆ मारुति सुजुकी स्विफ्ट एवं ढेर सारे उपहार ◆ तो देर किस बात की ◆ आज ही आएं और पाएं जबरदस्त ऑफर  ◆ 1. हनुमान मंदिर के सामने, कोतवाली चौराहा, 9984991000, 9792991000, 9984361313  ◆ 2. सद्भावना पुल रोड नखास, ओलन्दगंज, 9838545608, 7355037762*
    Ad


    *Ad : जौनपुर का नं. 1 शोरूम :  Agafya furnitures | Exclusive Indian Furniture Showroom | ◆ Home Furniture ◆ Office Furniture ◆ School Furniture | Mo. 9198232453, 9628858786 | अकबर पैलेस के सामने, बदलापुर पड़ाव, जौनपुर - 222002*
    Ad

    No comments