• Breaking News

    12 वीं सीबीएसई बोर्ड के रिजल्ट फार्मूले पर सुप्रीम कोर्ट की मुहर - असंतुष्ट विद्यार्थियों को परीक्षा का अवसर - 31 जुलाई 2021 तक रिजल्ट घोषित होगा | #NayaSaberaNetwork

    12 वीं सीबीएसई बोर्ड के रिजल्ट फार्मूले पर सुप्रीम कोर्ट की मुहर - असंतुष्ट विद्यार्थियों को परीक्षा का अवसर - 31 जुलाई 2021 तक रिजल्ट घोषित होगा   | #NayaSaberaNetwork


    नया सबेरा नेटवर्क
    18 स्टेट बोर्ड द्वारा कैंसिल 12वीं बोर्ड की परीक्षा के रिजल्ट के फार्मूले का विद्यार्थियों को बेसब्री से इंतजार - एड किशन भावनानी
    गोंदिया - वैश्विक रूप से कोरोना महामारी ने शिक्षा क्षेत्र पर ऐसा जबरदस्त आघात किया कि पिछले 100 सालों में शिक्षा क्षेत्र पर ऐसी गंभीर दुविधा भरी स्थिति नहीं देखी गई।...बात अगर हम 12वीं सीबीएसई बोर्ड परीक्षा की करें तो पिछले दिनों प्रधानमंत्री महोदय द्वारा हाई लेवल मीटिंग कर 12वीं सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा को रद्द कर दिया था जिससे अधिकतम विद्यार्थीयों एवं अभिभावकों ने में हर्ष की लहर देखी गई थी और दूसरे दिन प्रधानमंत्री महोदय द्वारा आकस्मिक रूप से बच्चों से वर्चुअल चर्चा कर उनके विचार जाने, जो हम सब ने लाइव टेलीकास्ट टीवी चैनलों पर देखा और हम सभ भाव विभोर हुए...। बात अगर हम स्टेट बोर्ड की करें तो 28 स्टेट बोर्ड में से 18 स्टेट बोर्ड ने अभी तक अपनी 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं रद्द की है। जिसमें से कुछ ने तो परीक्षा प्रोग्राम भी घोषित कर दिया था परंतु प्रधानमंत्री द्वारा सीबीएसई 12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द का ऐलान के बाद उन्होंने भी परीक्षाएं रद्द कर दी थी।...बात अगर हम 12वीं परीक्षा रद्द करने के मुद्दे की माननीय सुप्रीम कोर्ट में मामले की करें तो गुरुवार दिनांक 17 जून 2021 को सीबीएसई बोर्ड द्वारा इस संबंध में 13 सदस्यों की नियुक्त कमेटी द्वारा अपनी रिपोर्ट माननीय सुप्रीम कोर्ट में प्रस्तुत की गई..बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने इससे पहले केंद्र, सीबीएसई और काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) को 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए परिणाम घोषित करने के रूल्स बनाने के लिए दो सप्ताह का समय दिया था। इसके बाद सीबीएसई ने अब स्कूल आधारित मूल्यांकन के लिए और प्रैक्टिकल के तरीके में बदलाव को लेकर नया सर्कुलर जारी किया है, जिसमें रिजल्ट काफार्मूला बताया गया इस कमेटी द्वारा बनाए फार्मूले के अनुसार रिजल्ट का फॉर्मूलेशन तीन स्त्रोतों के एकीकरण के आधार पर किया जाएगा। यह स्त्रोत होंगे 10वीं, 11वीं और 12वीं की तब तक ली गई परीक्षाओंके आधार पर सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद रिजल्ट बनाने के लिए बनाई गई टीम ने अपने रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंप दी है। कोर्ट को बताया गया है कि 12वीं के रिजल्ट के लिए 10वीं, 11वीं और 12वीं के प्री बोर्ड के रिजल्ट को आधार बनाकर फाइनल रिजल्ट बनाया जाएगा। हालांकि सीबीएसई ने साफ कर दिया है कि जो बच्चे परीक्षा देना चाहते हैं, उनके लिए बाद में अलग व्यवस्था की जाएगी परीक्षाओं के आधार पर। सीबीएसई ने 12वीं के छात्रों को मार्क्स देने की प्रक्रिया आज सुप्रीम कोर्ट में बतायी उसमे 12वीं क्लास के छात्रों का रिजल्ट उनके उपरोक्त तीनों क्लास की परीक्षाओं में 30:30:40 फॉर्मूला के आधार पर आएगा और 31 जुलाई 2021 को रिजल्ट घोषित किया जा सकता है। यह फार्मूला इस तरह है कि, सीबीएसई के 13 सदस्यीय पैनल ने 12वीं क्लास के रिजल्ट के लिए 30:30:40 के अनुपात का जो फॉर्मूला तय किया है, उसमे छात्र के 10वीं का 30 फीसदी वैटेज, 11वीं का 30 फीसदी वैटेज और 12वीं का 40 फीसदी वैटेज के आधार पर 12वीं के कुल मार्क्स तय किए जाएंगे। छात्र के 10वीं और 11वीं क्लास के बेस्ट तीन सब्जेक्ट के 30 फीसदी मार्क्स लिए जाएंगे। वहीं 12वीं में यूनिट पेपर्स, टर्म व प्रेक्टिकल के 40 फीसदी मार्क्स जोड़े जाएंगे। इसके बाद इन तीनों को जोड़करकुल मार्क्स कैलकुलेट किए जाएंगे।मूल्यांकन क्राइटेरिया के मुद्दे पर सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने बोर्ड को तीन चीजें सुनिश्चित करने को कहा है। कोर्ट ने सीबीएसई से विवाद समाधान समिति के लिए प्रावधान बनाने को कहा है। समिति का उद्देश्य छात्रों द्वारा प्राप्त अंकों के बारे में उनकी शिकायतों का समाधान करना होना चाहिए। बोर्ड को परिणामों की घोषणा के लिए एक निश्चित समयसीमा घोषित करनी चाहिए। इससे यह सुनिश्चित होगा कि छात्रों को अनिश्चितता के साथ परिणाम का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। सीबीएसई को उस तारीख के बारे में भी बताना होगा जिसके द्वारा वैकल्पिक परीक्षा आयोजित की जाएगी। उल्लेखनीय है कि, सीबीएसई ने कोर्ट को 12वीं का रिजल्ट बनाने के लिए इन मानकों का उल्लेख किया है। (अ) छात्र के 10वीं के 5 में से तीन विषयों के सबसे अच्छे नंबरों को लिया जाएगा। (ब)11वीं क्लास के पांचों विषयों का एवरेज लिया जाएगा। (स)इसी क्रम में 12वीं के प्री बोर्ड के नंबरों और प्रेक्टिकल के नंबर को लिया जाएगा। (ड )-सीबीएसई ने सुप्रीम कोर्ट को सौंपी अपनी रिपोर्ट में साफ किया है कि 10वीं के 30 फीसदी, 11वीं के 30 फीसदी और 12वीं के नंबरों को 40 फीसदीसे आंका जाएगा...। बात अगर आज केंद्रीय शिक्षा मंत्री के टि्वटर हैंडल से दी गई जानकारी की करें तो उनके अनुसार भी,जो विद्यार्थी इस प्रक्रिया के तहत अपने परिणाम से संतुष्ट नहीं हैं, उन्हें स्थितियां अनुकूल होने पर सीबीएसई द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा में बैठने का अवसर दिया जाएगा। उनके अनुसार सरकार प्रत्येक स्थिति में शिक्षा से जुड़े सभी हित धारकों के हितों एवं उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रतिबद्ध है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट द्वारा सीबीएसई मार्किंग पैटर्न पर सुधार लाने पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने विद्यार्थियों का परिणाम तैयार करने के लिए नीति एवं प्रक्रिया को संस्तुति प्रदान करने हेतु भारतीय सर्वोच्च न्यायालय का बहुत-बहुत आभार माना।...बात अगर हम स्टेट बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में करें तो गुरुवार दिनांक 17 जून 2021 को ही यह मैटर भी सुप्रीम कोर्ट मैं वर्चुअल सुनाई में आया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कीजानकारी के अनुसार कोर्ट में बताया गया कि 28 राज्यों के स्टेट बोर्ड में से 18 स्टेट्स बोर्ड परीक्षाओं को कैंसिल कर चुका है 6 स्टेट बोर्ड द्वारा परीक्षा करवाई गई है तथा 4 स्टेट बोर्ड ने अपनी अभी तक परीक्षा कैंसिल नहीं की गई है। माननीय न्यायालय ने स्टेट बोर्ड के संबंध में अगली सुनवाई 21 जून 2021 को रखी है उल्लेखनीय है कि भारत में एजुकेशन सिस्टम में 4 तरह के स्कूल बोर्ड काम करते हैं। पहला सीबीएसई दूसरा सीएसइ तीसरा स्टेट बोर्ड और चौथा आईबी बोर्ड और देशमें सबसे अधिक प्रचलित स्कूल सीबीएसई बोर्ड है इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार, सीबीएसई 1929 से अस्तित्व में है और सीबीएसई के इतिहास में ऐसा पहले कभी नहीं हुआहै सीबीएसई इसे विशेषज्ञों की एक समिति के साथ डिजाइन किया है। इस उद्देश्य के लिए सीबीएसई ने 10वीं,11वीं और 12वीं कक्षाओं को शामिल किया है। अतः उपरोक्त पूरे विवरण का अगर हम अध्ययन कर उसका विश्लेषण करें तो सीबीएसई के रिजल्ट फार्मूले पर सुप्रीम कोर्ट ने मुहर लगा दी है। असंतुष्ट विद्यार्थियों को परीक्षा का अवसर सीबीएसई बोर्ड ने दिया हैं। 31 जुलाई 2021 तक रिजल्ट घोषित हो जाएगा तथा अट्ठारह स्टेट बोर्ड द्वारा कैंसिल 12वीं बोर्ड की परीक्षा के रिजल्ट के फार्मूले का इंतजार विद्यार्थियों को बेसब्री है उम्मीद है उसका समाधान भी जल्दी निकल जाएगा।
     -संकलनकर्ता- कर विशेषज्ञ एडवोकेट किशन सनमुखदास भावनानी गोंदिया महाराष्ट्र

    *Ad : ◆ शुभलगन के खास मौके पर प्रत्येक 5700 सौ के खरीद पर स्पेशल ऑफर 1 चाँदी का सिक्का मुफ्त ◆ प्रत्येक 11000 हजार के खरीद पर 1 सोने का सिक्का मुफ्त ◆ रामबली सेठ आभूषण भण्डार (मड़ियाहूँ वाले) ◆ 75% (18Kt.) है तो 75% (18Kt.) का ही दाम लगेगा ◆ 91.6% (22Kt.) है तो (22Kt.) का ही दाम लगेगा ◆ वापसी में 0% कटौती ◆ राहुल सेठ 09721153037 ◆ जितना शुद्धता | उतना ही दाम ◆ विनोद सेठ अध्यक्ष- सर्राफा एसोसिएशन, मड़ियाहूँ पूर्व चेयरमैन प्रत्याशी- भारतीय जनता पार्टी, मड़ियाहूँ मो. 9451120840, 9918100728 ◆ पता : के. सन्स के ठीक सामने, कलेक्ट्री रोड, जौनपुर (उ.प्र.)*
    Ad



    *Ad : जौनपुर टाईल्स एण्ड सेनेट्री | लाइन बाजार थाने के बगल में जौनपुर | सम्पर्क करें - प्रो. अनुज विक्रम सिंह, मो. 9670770770*
    Ad


    *एस.आर.एस. हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेन्टर स्पोर्ट्स सर्जरी डॉ. अभय प्रताप सिंह (हड्डी रोग विशेषज्ञ) आर्थोस्कोपिक एण्ड ज्वाइंट रिप्लेसमेंट ऑर्थोपेडिक सर्जन # फ्रैक्चर (नये एवं पुराने) # ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी # घुटने के लिगामेंट का बिना चीरा लगाए दूरबीन  # पद्धति से आपरेशन # ऑर्थोस्कोपिक सर्जरी # पैथोलोजी लैब # आई.सी.यू.यूनिट मछलीशहर पड़ाव, ईदगाह के सामने, जौनपुर (उ.प्र.) सम्पर्क- 7355358194, Email : srshospital123@gmail.com*

    No comments