• Breaking News

    कोरोना का सितमः छोटे-बड़े कारोबार बंद एवं सट्टेबाजी चालू | #NayaSaberaNetwork

    नया सबेरा नेटवर्क
    मोहल्लों में सट्टेबाजों की जड़ें गहरी, धंधे को रोक पाने में पुलिस फेल
    ए. अहमद सौदागर
    लखनऊ। कोरोना महामारी में तमाम लोग तबाह हो गये, इसके कहर के चलते जहां लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। तमाम छोटे-बड़े कारोबार बंद होने से लोगों को तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं दूसरी तरफ सट्टेबाज मालामाल हो रहे हैं। कोरोना जैसे महामारी के दौर में यह धंधा राजधानी लखनऊ में आराम से चल रहा है। सट्टे के खेल को आज तक पुलिस भी रोक नही पाई है। सूत्रों की मानें तो यह खेल लखनऊ में अब पूरी तरह अपने पैर पसार चुका है। अभी तक तबाही का यह खेल कुछ चुनिंदा जगहों पर ही खेला जा रहा था लेकिन अब इसकी जड़ें मोहल्ले और बस्तियों में भी गहरी होती जा रही है जिसे रोक पाना पुलिस के बस की बात नहीं है। राजधानी की कमिश्नरेट पुलिस हालांकि इस धंन्धे से जुड़े कई लोगों को दबोच कर सलाखों के पीछे भी भेज चुकी है लेकिन इन सबके बावजूद इस कारोबार पर कोई असर नहीं पड़ा। पुलिस ने जब मुख्य जगहों पर अपना शिकंजा कसा तो इन सट्टेबाजों ने अपना रुख छोटे-छोटे मोहल्लों की तरफ कर लिया। अब यह खेल गली-कूचों में खेला जा रहा है। अहम बात यह है कि कई जगहों पर सट्टेबाजी का खेल पुलिस की सरपरस्ती में चल रहा है जहाँ पुलिस इन सट्टेबाजों से मोटी रकम वसूल रही है। अब जब सट्टेबाज और पुलिस दोनों की सहमति है तो फिर यह खेल कैसे बन्द हो सकता है लेकिन इतना जरूर है कि इस खेल में तमाम लोग बर्बाद हो चुके है। कुछ रुपये के लालच में लोग धीरे धीरे फंसते चले जा रहे है। लखनऊ का शायद ही कोई ऐसा इलाका बचा हो जहाँ सट्टे का खेल चल न रहा हो। राजधानी के गाजीपुर थाना इलाके के सी ब्लाक चौकी क्षेत्र के गाजीपुर मोहल्ले में सट्टेबाजों की जड़े गहरी हो चुकी है। यहाँ सुबह से लेकर देर रात तक यह खेल चल रहा है। छोटे-छोटे कारोबार करने वाले लोग इन सट्टेबाजों के जाल में फंसते जा रहे है। खास बात यह है कि पुलिस भी इस धंधे को बंद नही करवा पा रही है जबकि सूत्रों का कहना है कि पुलिस की जानकारी में सब कुछ चल रहा है। अब बड़ा सवाल यह है कोरोना जैसी महामारी में जहां सारे धंधे करीब करीब बन्द है। लोगों के सामने तमाम संकट खड़े हो गए है। उसके बावजूद यह कारोबार कैसे चल रहा है। इस धंधे से जुड़े धंधेबाज रोजाना इन इलाकों में कैसे पहुंच रहे है। पुलिस इस कारोबार को बंद क्यो नहीं करवा पा रही है। अगर समय रहते इस पर शिकंजा कस जाए तो तमाम लोग बर्बाद होने से बच जाएंगे। वहीं दूसरी तरफ कुछ लोगों का कहना है कि अगर इस धंधे को चलाना ही है तो लाटरी जैसे खेल को फिर से शुरू करवा देना चाहिए जिससे सरकार को राजस्व भी मिलेगा और तमाम लोगों को रोजगार भी।

    *Ad : श्रीमती अमरावती श्रीनाथ सिंह चैरिटेबल ट्रस्ट के ट्रस्टी एवं कयर बोर्ड भारत सरकार के पूर्व सदस्य ज्ञान प्रकाश सिंह की तरफ से ईद पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं*
    Ad



    *Ad : एस.आर.एस. हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेन्टर | स्पोर्ट्स सर्जरी | डॉ. अभय प्रताप सिंह | (हड्डी रोग विशेषज्ञ) | आर्थोस्कोपिक एण्ड ज्वाइंट रिप्लेसमेंट ऑर्थोपेडिक सर्जन | # फ्रैक्चर (नये एवं पुराने)|  # ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी | # घुटने के लिगामेंट का बिना चीरा लगाए दूरबीन |  # पद्धति से आपरेशन | # ऑर्थोस्कोपिक सर्जरी | # पैथोलोजी लैब | # आई.सी.यू.यूनिट | मछलीशहर पड़ाव, ईदगाह के सामने, जौनपुर (उ.प्र.) | सम्पर्क- 7355358194, Email : srshospital123@gmail.com*
    Ad

    *Ad : ◆ शुभलगन के खास मौके पर प्रत्येक 5700 सौ के खरीद पर स्पेशल ऑफर 1 चाँदी का सिक्का मुफ्त ◆ प्रत्येक 11000 हजार के खरीद पर 1 सोने का सिक्का मुफ्त ◆ रामबली सेठ आभूषण भण्डार (मड़ियाहूँ वाले) ◆ 75% (18Kt.) है तो 75% (18Kt.) का ही दाम लगेगा ◆ 91.6% (22Kt.) है तो (22Kt.) का ही दाम लगेगा ◆ वापसी में 0% कटौती ◆ राहुल सेठ 09721153037 ◆ जितना शुद्धता | उतना ही दाम ◆ विनोद सेठ अध्यक्ष- सर्राफा एसोसिएशन, मड़ियाहूँ पूर्व चेयरमैन प्रत्याशी- भारतीय जनता पार्टी, मड़ियाहूँ मो. 9451120840, 9918100728 ◆ पता : के. सन्स के ठीक सामने, कलेक्ट्री रोड, जौनपुर (उ.प्र.)*
    Ad

    No comments