• Breaking News

    साइबर सेल के ओपी जायसवाल ने आनलाइन ठगी का शिकार हुए पीड़ितों के खाते में वापस कराया 1.17 लाख | #NayaSaberaNetwork

    नया सबेरा नेटवर्क
    जौनपुर। एसपी राजकरन नय्यर के निर्देशानुसार जनपद में चलाये जा रहे साइबर अपराध पर नियंत्रण सम्बन्धी अभियान के क्रम में साइबर सेल जौनपुर के ओपी जायसवाल द्वारा साइबर ठगी से पीड़ितों के खाते में 1 लाख 17000 रूपये वापस कराया गया।

    पुलिस अधीक्षक के समक्ष प्रार्थना पत्र देते हुए पीड़ितों ने बताया कि अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनको फोन कर धोखाधड़ी करते हुए खाते/एटीएम की डिटेल प्राप्त कर खाते से पैसा निकाल लिया गया है।  प्रकरण की जांच पुलिस अधीक्षक जौनपुर द्वारा साइबर सेल के ओपी जायसवाल को दी गई। साइबर सेल के श्री जायसवाल द्वारा मामले की गंभीरता से जांच व लाभप्रद कार्यवाही करते हुए  प्रथम आवेदिका को रुपया 64900/- ,  द्वितीय आवेदक को रुपया 52739/- रुपये की बड़ी रकम को वापस कराया गया। अपने पैसे वापस पाकर पीड़ितो ने पुलिस अधीक्षक जौनपुर व साइबर सेल को धन्यवाद दिया।

    साइबर ठगों द्वारा ठगी का तरीका
    *01.* आवेदिका प्रथम द्वारा फोनपे पर किये गये ट्रान्जेक्शन के क्यिर कराने हेतु  गूगल पर फोन पे कस्टमर केयर नम्बर सर्च कराया जहां से आवेदिका को एक मोबाइल नम्बर प्राप्त हुआ जो साइबर ठग का था। जिसपर आवेदिका नें फोन कर अपना फोनपे में फसे पैसे को रिफन्ड करानें हेतु प्रोसिजर जानना चाहा तो उधर से आवेदिका को एक लिंक मैसेज किया गया तथा उनसे बोला गया कि यह लिंक से आप एनीडेक्स ऐप अपने मोबाइल में डाउनलोड कर लीजिये तथा उसका पासवर्ड पूछकर उनके मोबाइल मो रिमोटली एक्सेस करते हुए उक्त साइबर ठग ने आवेदिका के क्रेडिट कार्ड से रूपया 64900 की खरीददारी कर लिया गया।
    *02.* आवेदक द्वितीय को एक अज्ञात नम्बर से फोन आया फोन करनें वाला व्यक्ति अपने आपको एचडीएफसी के क्रेडिट कार्ड विभाग का अधिकारी  बताते हुए कहा कि आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढानें हेतु कुछ प्रोसिजर फालो करनें होगें जिसके झाँसे में आकर आवेदक नें अपनें क्रेडिट कार्ड की सारी डिटेल फोन पर शेयर कर दी जिससे साइबर ठग नें आवेदक के क्रेडिट कार्ड से रूपया 52739 रूपया उड़ा लिया।


    पुलिस अधीक्षक जौनपुर का साइबर ठगी से बचनें हेतु आमजन को संदेश-

    *01.* किसी भी कम्पनी का कस्टमर केयर नम्बर उस कम्पनी के आधिकारिक वेवसाइट से ही प्राप्त करें क्योकि आजकल साइबर ठगों द्वारा अपने नम्बरों को विभिन्न आनलाइन कम्पनियों के कस्टमर केयर के नाम से गूगल पर अपडेट किया गया है।
    *02.* कोई भी बैंक अधिकारी फोनपर कभी भी आपसे एटीएम, खाते क्रेडिड कार्ड अन्य से सम्बन्धित जानकारी नहीं मांगता इसलिए कभी भी फोन काल पर अपने बैंक से सम्बन्धित जानकारी शेयर ना करें।

    No comments