• Breaking News

    मनुष्य की लालच ने प्रकृति का सन्तुलन बिगाड़ा : डा. भानु प्रताप सिंह | #NayaSaberaNetwork |

    पांच दिवसीय मोटिवेशन साइंस कैम्प का हुआ समापन
    उत्कृष्ट मॉडल को किया गया पुरस्कृत

    नया सबेरा नेटवर्क
    जौनपुर। नेहरू बालोद्यान सीनियर सेकेण्डरी स्कूल जौनपुर में आयोजित पांच दिवसीय मोटिवेशनल साइन्स कैम्प के समापन के दिन कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए एनसीएसटीसी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग भारत सरकार के पूर्व अध्यक्ष डा. भानु प्रताप सिंह ने कहा कि मनुष्य की अतृप्त इच्छाओं ने प्रकृति का सन्तुलन बिगाड़ दिया।


    उन्होंने कहा कि प्रकृति मनुष्य की आवश्यकताओं की पूर्ति तो कर सकती है लेकिन मनुष्य की लालच की पूर्ति प्रकृति के वश नही है। हम सब लालची हो गये है हमने पेढ़ो को काटा, तालाबो को पाटा, नदियों को प्रदूषित किया जिसके परिणाम स्वरूप उत्तराखण्ड की विभिषिका हमारे सामने है, घरती का तापमान बढ़ रहा है, ग्लेशियर पिघर रहे है हमे इन दुषदारियों से बचने के लिए पेड़ लगाने होंगे, पानी संरक्षित करना होगा तथा कार्बन डाईआक्साईड के उत्तसर्जन को कम करना होगा। प्रकृति का कार्यक्रम में बच्चों द्वारा लगायी गयी माडल को प्रदर्शित किया गया तथा उनका मूल्यांकन किया गया जिसमें से उत्कृष्ठ मांडल को पुरस्कृत किया गया जिसमें से नेहरू बालोद्यान यू०पी० बोर्ड हुसेनाबाद दीपक चौहान, नेहरू बालोद्यान यू०पी० बोर्ड कन्हईपुर प्रशान्त यादव प्रथम, नेहरू बालोद्यान सीनियर सेकेण्डरी स्कूल कन्हईपुर मेदान्स श्रीवास्तव, चन्द्रेज सीनियर सेकेण्डरी स्कूल, जौनपुर हर्षिता सिंह राम मनोहर लोहिया सीनियर सेकेण्डरी स्कूल प्रियांशु सिंह, जनक कुमारी इण्टर कालेज, जौनपुर विकास मौर्या, टी0डी०एम०सी० धर्मापुर, जौनपुर सुमित विश्वकर्मा प्रथम, मोहम्मद हसन इण्टर कालेज, जौनपुर दीपक बिन्द, होली चाइल्ड सीनियर सेकेण्डरी स्कूल, जौनपुर अमन खरवार, को पुरस्कृत किया गया।


    क्वीज प्रतियोगिता में जनक कुमारी इण्टर कालेज, जौनपुर रिया यादव प्रथम, होली चाइल्ड सीनियर सेकेण्डरी स्कूल, जौनपुर ऋषभ देव पाण्डेय तृतीय को पुरस्कृत किया गया । कार्यक्रम में 9 विद्यालयों से आये हुए 80 प्रतिभागियों तथा उनके अध्यापको, कार्यक्रम के अध्यक्ष तथा नेहरू बालोद्यान के सभी सहयोगी अध्यापक अध्यापिकाओं का आभार प्रदर्शन डा. चन्द्रकला सिंह ने किया ।


    कार्यक्रम के अन्त में कार्यक्रम के समन्वयक डॉ. सीडी सिंह ने सभी वक्ताओं को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम का संचालन अरविन्द सिंह ने किया।










    No comments