• Breaking News

    अक़बर का बीरबल ने दिलाई पहचान: जितेंद्र झा | #NayaSaberaNetwork

    अक़बर का बीरबल ने दिलाई पहचान: जितेंद्र झा  | #NayaSaberaNetwork


    नया सबेरा नेटवर्क
    वेब सीरीज भींगे होठ तेरे में साइको किलर किन्नर का किरदार दर्शकों की उत्सुकता बढ़ाएगा
    भक्ति और लोक गायन ने दिया भोजीवुड व धारावाहिकों में पहुंचने का रास्ता
    सै. हसनैन कमर दीपू 
    जौनपुर। पूर्वांचल में गायन के जरिए डंका बजाने वाले जितेंद्र झा को धारावाहिक अक़बर का बीरबल ने नाम के साथ भोजीवुड व वेब सीरीज का रास्ता दिया। स्वभाव से सरल जितेंद्र ने भोजपुरी भाषा को ऐसा आत्मसात किया कि हिंदी बोलने से परहेज करने लगे। इन दिनों मेरा भारत महान फिल्म की शूटिंग और भोजीवुड के सुपर स्टार पवन सिंह की मौजूदगी ने जौनपुर का पारा चढ़ा दिया है। ऐसे में यहां के बाशिंदे जितेंद्र भी युवा दिलों की धड़कन ही नहीं सेलिब्रिाटी बन गए हैं।


    अक़बर का बीरबल ने दिलाई पहचान: जितेंद्र झा  | #NayaSaberaNetwork



    एक ओर जहां शहर के युवा जितेंद्र की सेल्फी लेने को बेताब दिख रहे वहीं जितेंद्र-भइया परनाम बोलते सुने जा रहे हैं। अर्धनारी, वृहन्नला या किन्नर जो भी बोलिए लेकिन खतरनाक और कमसिन साइको किलर के रूप में निभाए गए इनके किरदार ने रिलीज़ से पहले ही धूम मचा रखी है। फिरअक़बर का बीरबल धरावाहिक जहां जितेंद्र के लिए भोजीवुड तक जाने का पायदान बना वहीं इसमें निभाया गया किरदार बीरबल नाम के अनुसार मनोरंजन का साधन बना। दर्शकों ने किरदार और जितेंद्र के स्वभाव को जोड़कर देखा, दोनों में ज़मीन आसमान का अंतर मिला। इसी सवाल पर उनका जवाब था कि करेक्टर में जीने के लिए रात दिन एक करना पड़ता है। रवि किशन और पवन सिंह जैसे सुपर स्टार इनके रोल मॉडल हैं। जितेंद्र में इन दोनों कलाकारों की झलक भी दिखती है। जिम ट्रेनर रहे जितेंद्र की शिक्षा दीक्षा जौनपुर से ही हुई है। वह खुश इस बात से भी हैं कि अपने शहर को शूटिंग के लिए बेहतर लोकेशन माना जा रहा है। जितेंद्र झा प्राथमिक शिक्षा लाइन बाजार और आगे जनक कुमारी, ज्ञानोदय और टीडी कॉलेज के शिक्षकों का आभार जताने से नहीं चूक रहे हैं। वेब सीरीज भींगे होठ तेरे के बारे में पूछने पर कहते हैं कि अद्र्ध नारी का जीवन बहुत कठिन होता है। जमाने की नजरों के हिसाब से उन्हें अपना दिल मजबूत करके खुद को ढालना पड़ता है। 10 एपिसोड के इस सीरीज कमसिन किन्नर वह भी क़ातिल अपने आप में खतरनाक है। उस किरदार में उतरने से ज्यादा वक्त तो निकलने में लगा। अब महसूस होता है कि माँ शीतला और मैहर देवी गीत में जहां भक्ति की अनुभूति होती थी वहीं तरह तरह की पटकथा वाली फिल्मों और धारावाहिकों के किरदार में उतरना और निकलना बड़ा कठिन है। इस परीक्षा में अपनी पत्नी अल्का झा का भरपूर सहयोग बताते हैं।

    *Ad : किसी भी प्रकार के लोन के लिए सम्पर्क करें, कस्टमर केयर नम्बर : 8707026018, अधिकृत — विनोद यादव मो. 8726292670*
    Ad


    *Ad : देव होम्यो क्योर एण्ड केयर | खानापट्टी (सिकरारा) जौनपुर | डॉ. दुष्यंत कुमार सिंह  मो. 8052920000, 9455328836*
    Ad


    *Ad : पूर्वांचल का सर्वश्रेष्ठ प्रतिष्ठान गहना कोठी भगेलू राम रामजी सेठ 1. हनुमान मंदिर के सामने, कोतवाली चौराहा, 9984991000, 9792991000, 9984361313, 2. सद्भावना पुल रोड नखास, ओलन्दगंज, 9838545608, 7355037762*
    Ad

    No comments