• Breaking News

    बदायूं की घटना महिलाओं के प्रति समाज की मानसिकता को दर्शाती है | #NayaSaberaNetwork

    नया सबेरा नेटवर्क
    अजय कुमार 
    उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में अधेड़ महिला के साथ हैवानियत के बाद हत्या की वारदात से एक बार फिर मानवता शर्मसार हो गई। इससे भी बड़ी चिंता की बात यह है कि इस अधेड़ महिला के साथ वहां हैवानियत हुई जहां वह अपने बीमार पति के स्वास्थ्य और लम्बे जीवन की कामना करने के लिए गई थी। किसी धार्मिक स्थल या उसके परिसर में इस तरह की वारदात का होना यही बताता है कि हैवानों को भगवान से भी डर नहीं लगता है। इतना ही नहीं इस कांड में मंदिर का केयरटेकर भी शामिल था। बदायूं का कृत्य भी हाथरस कांड जैसी तमाम घटनाओं से कम नहीं था। बस फर्क था तो समय और स्थान का। हाथरस की तरह यहां भी पुलिस और प्रशासन ने अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करने में जरा भी रूचि नहीं दिखाई। वैसे उक्त दो मामले अपवाद नहीं हैं। 
    बदायूं की घटना महिलाओं के प्रति समाज की मानसिकता को दर्शाती है  | #NayaSaberaNetwork


    सच्चाई यही है कि बात अपराध की हो या फिर जनता से जुड़ी समस्याओं अथवा विकास कार्यों की, सरकारी अमला हमेशा लापरवाह ही नजर आता है। नौकरशाहों और बड़े जिम्मेदार अधिकारियों के माथे पर तब तक शिकन नहीं आती है, जब तक कि पानी सिर से ऊपर नहीं चला जाता है। मुरादनगर शमशान घाट पर छत गिरने से करीब दो दर्जन मौतों के मामले में भी ऐसा ही देखने को मिला था। यह कहने में संकोच नहीं होना चाहिए कि करीब-करीब पूरा सरकारी अमला अपनी मनमर्जी से काम करता है। आम जनता शिकायत करती है तो उन शिकायतों की सुनवाई भी यही लोग करते हैं और मामले को रफा-दफा होने में समय नहीं लगता है। सरकारी मशीनरी कैसे काम करती है, इसका पता तो वह ही बता सकता है जो भुक्तभोगी होता है। कहीं पुलिस पीड़ित की सुनवाई नहीं करती है तो कहीं-कहीं तो वह दबंगों के साथ ही खड़ी हो जाती है। पुलिस का जनता से सीधा सरोकार रहता है, इसलिए उसकी खामियां तो जगजाहिर हो जाती हैं, वर्ना करीब-करीब सभी सरकारी विभागों में एक जैसे हालात हैं। अर्दली से लेकर ऊपर तक बैठे अधिकारी मनमानी करते रहते हैं। इसका कारणा है किसी अधिकारी/कर्मचारी की व्यक्तिगत जिम्मेदारी नहीं तय है। न ही सजा का कोई खास प्रावधान है जिससे सरकारी नुमाइंदों में भय पैदा हो।

    *Ad : सखी फाउण्डेशन जौनपुर की अध्यक्ष प्रीति गुप्ता की तरफ से नव वर्ष 2021, मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई*
    Ad


    *Ad : युवा समाजसेवी व जनपद के लोकप्रिय भाजपा नेता पुष्पेन्द्र सिंह की तरफ़ से नव वर्ष2021,मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की आप सभी को कोटिशः बधाई व अशेष शुभकामनाएं*
    Ad



    *Ad : उप्र माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय उपाध्यक्ष रमेश सिंह की तरफ से नव वर्ष 2021, मकर संक्रान्ति एवं गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई*
    Ad

    No comments