• Breaking News

    गौराबादशाहपुर में अखिल भारत गौ सुरक्षा यात्रा का हुआ स्वागत | #NayaSaberaNetwork

    फैज अंसारी
    धर्मापुर, जौनपुर। 2 अक्टूबर 2020 से चल रही 90 दिवसीय अखिल भारत गौ सुरक्षा यात्रा सौ वैज्ञानिकों में एक डॉ मदन मोहन बजाज एवं पंडित रामस्वरूप के मार्गदर्शन में दिल्ली एनसीआर, वृंदावन, चित्रकूट, कानपुर, लखनऊ, अयोध्या, प्रयागराज, बुंदेलखंड, हरियाणा, राजस्थान, ओड़िशा, पश्चिम बंगाल के गंगा सागर तट पर समापन करते हुए भारत के विभिन्न प्रांतों से होते हुए शनिवार की रात अखिल भारतीय गो सेवक समाज के अंचलीय मंत्री डॉ० जयसिंह राजपूत के आवास पर रात्रि विश्राम के उपरांत रविवार दोपहर एक बजे ग्रामीणों द्वारा अखिल भारत गौ सुरक्षा यात्रा के संयोजक डॉ श्रवण कुमार चौहान एवं संयोजिका विष्णुप्रिया मिश्रा जिनके कुशल संचालन में यह 90 दिवसीय यात्रा संपन्न हुई, को लोगों द्वारा माल्यार्पण कर स्वागत किया गया।
    तत्पश्चात् डॉ श्रवण कुमार चौहान द्वारा ग्रामीणों एवं किसानों को गौ माता की उपयोगिता को बताते हुए किसानों को गो आधारित कृषि एवं पंचगव्य व गो आधारित चिकित्सा पर प्रशिक्षण दिया गया,उन्होंने बताया कि जिस दिन हर किसान के घर में एक गाय होगी उस दिन भारत का हर किसान खुशहाल एवं समृद्धिशाली होगा और जिस दिन घर-घर में एक गाय होगी उस दिन भारत का हर व्यक्ति स्वस्थ एवं रोग मुक्त होगा, इसी कड़ी में राष्ट्रीय संयोजिका विष्णु प्रिया मिश्रा द्वारा अपने संबोधन में लोगों को अवगत कराया गया कि, भारत का हर व्यक्ति परोक्ष रूप से भोजन के साथ अपने शरीर में जहर ले रहा है, क्योंकि जो रासायनिक खेती द्वारा अनाज पैदा किया जा रहा है उस अनाज के उपयोग से हर व्यक्ति प्रतिदिन लगभग पचास ग्राम रसायन अपने शरीर में ले रहा है जो जहर का काम कर रहा है, यही कारण है कि भारत का हर व्यक्ति अनेक बीमारियों से ग्रसित है, अतः जब तक किसान गौ आधारित खेती पर बल नहीं देंगे तब तक दिन प्रतिदिन यह समस्या बढ़ती ही जाएगी, स्वागत समारोह में यादवेंद्र दत्त द्विवेदी, राज नारायण सिंह, सुभाष सोनकर वीडीसी एवं धर्मपत्नी ,बिंद्रेश शर्मा (उपाध्यक्ष) अपराध निरोधक कमेटी, विजय मौर्या (कोषाध्यक्ष) सुमन मौर्या, राजकुमारी, उर्मिला सिंह,फेरई राम ,लल्लू सोनकर, लाल बहादुर आदि लोग ने माल्यार्पण कर स्वागत किया।
    स्वागत समारोह का संचालन करते हुए डॉ० जयसिंह राजपूत ने गौ माता पर हो रहे अत्याचार और तिरस्कार पर विशेष प्रकाश डालते हुए लोगों से निवेदन किया कि, यदि अपना और अपने देश का हित चाहते हैं तो गौ माता की सेवा एवं रक्षा करना हर व्यक्ति का परम कर्तव्य एवं सौभाग्य है। क्योंकि जिस घर में गौ माता की सेवा होती है वहाँ से सारे दुख दरिद्र भाग जाते हैं एवं सुख, समृद्धि व खुशहाली का आगमन होता है।

    No comments