• Breaking News

    रामवनगमन को देखकर दर्शकों की छलकी आंखें | #NayaSaberaNetwork

    शिवशंकर दुबे
    खुटहन, जौनपुर। क्षेत्र के ऐतिहासिक आदर्श रामलीला धर्ममण्डल उसरौली शहाबुद्दीनपुर में कलाकारों ने सोमवार को रामवनगमन, कैकेई मंथरा संवाद लीला का मंचन किया।वनगमन में मुनि के वेश में राजमहल से श्रीराम,अनुज लक्ष्मण व मां सीता को निकलते देख कर श्रद्धालुओं की आंखें आश्रुओं से भर आई। कई महिलाएं तो यह दृश्य देखकर सिसक उठी। सीता मैया बड़े पशोपेश में पड़ जाती है। सीता जी सासू का पैर पकड़ कर कहती हैं जब उनके द्वारा सेवा का वक्त आया है तो वह वनगमन को जा रही है। माता ने अश्रुपूरित नेत्रों से सीता को आर्शीवाद दिया।
    रामवनगमन को देखकर दर्शकों की छलकी आंखें | #NayaSaberaNetwork


    लक्ष्मण भी राम के साथ वन जाने के लिए मचल जाते हैं। मां सुमित्रा से आज्ञा लेने पहुंच जाते हैं। मां ने कहा कि जहां प्रभू श्रीराम है वहीं अयोध्या है। इस लिए तुम्हें यहां रहने का क्या औचित्य है। मां के मुख से प्रभु से प्रेम भरा यह वचन सुनकर श्रद्धालु भावविह्वल हो उठे। इस दु:ख भरी माहौल में राजा दशरथ सिर्फ इतना कह पाते हैं कि अभागे प्राण भी नही निकल पाते। मंथरा के कुचाल का प्रतिफल रहा कि मां कैकेई का मति कुमार्ग की तरफ फिर उठा। जिसमें  तपस्वी परिधानों में प्रभूश्रीराम, भाई लक्ष्मण व मां सीता को वन जाने के लिए राजमहल से निकलना पड़ा। राधेश्याम उपाध्याय, बद्री प्रसाद, मुन्ना पाण्डेय, संगम पाण्डेय, अवधेश सिंह, शिवम् सिंह, सांवले शर्मा, आल्हा पाण्डेय, विनय सिंह, इशाकांत पाण्डेय आदि लोग रहें।

    *Ad : एलआईसी अभिकर्ता विनोद यादव की तरफ से धनतेरस एवं दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं*
    Ad

    *Ads : GET A DIRECT LINE TO YOUR CUSTOMERS | Reach Unlimited | Contact - nayasabera.com Ads | Mo. 9807374781, 8299473623 | WA - 8299473623*
    Ad

    *Ad : श्रीमती अमरावती श्रीनाथ सिंह चैरिटेबल ट्रस्ट के ट्रस्टी एवं कयर बोर्ड भारत सरकार के पूर्व सदस्य ज्ञान प्रकाश सिंह की तरफ से धनतेरस की शुभकामनाएं* Ad
    Ad

    No comments