• Breaking News

    भ्रष्ट लोकतांत्रिक देश में नारी की अस्मिता सुरक्षित नहीं : रानी तिवारी | #NayaSaberaNetwork

    नया सबेरा नेटवर्क
    जौनपुर। अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद की अनुसांगिक शाखा ओजस्विनी परिषद की एक बैठक बदलापुर में रानी तिवारी के नेतृत्व में हुई। जिसमें देश में चल रहे तमाम कुरीतियों व नारी जाति पर हो रहे तमाम तरह के आपराधिक कृत्य जिसे देख सुनकर ही साधारण व्यक्ति सहम जाता है। आज इस भ्रष्ट लोकतांत्रिक देश में नारी की अस्मिता सुरक्षित नहीं उसकी अस्मिता, मान—सम्मान को रौंदा जा रहा है लेकिन सरकार एवं न्याय पालिका प्रणाली द्वारा अन्य देशों की भांति अब तक ऐसे आपराधिक कृत्य करने वालों के विरुद्ध कोई दंड विधान में परिवर्तन क्यों नहीं किया जा रहा है कि जिसे देख सुनकर अपराध करने वालो के हृदय में भय व्याप्त हो सके।

    रानी तिवारी ने कहा कि भारत देश पुरुष प्रधान देश रहा है लेकिन नारी का सम्मान भी कम नहीं रहा उन्हें दुर्गा, लक्ष्मी, सरस्वती के समान ही सम्मान मिलता रहा। नारी रक्षति रक्षित: का मूल मंत्र रहा है, लेकिन नारी भी पुरुषों के सदैव बराबरी का सहयोग देती रही है। पुरुषों के मान सम्मान को बचाने के लिए अपने पैर के महावर और हाथ की मेहंदी का परित्याग करके वीरांगना का वेशघर रण में कूद गई और वहीं दूसरी तरफ अपने पति कुल खानदान की मान मर्यादा सम्मान रखने के लिए जोहर व्रत को शिरोधार्य किया है।

    उन्होंने कहा कि समाज के कतिपय ठेकेदारों ने अपने वक्तव्य में कहा कि महिलाएं व लड़कियां अपने कपड़ों अर्थात परिधान पर विशेष ध्यान दें, जो पुरुषों को आमंत्रण का कार्य करती है लेकिन मैं उन ठेकेदारों से पूछना चाहती हूं कि उम्र 5 वर्ष, 7 वर्ष आयु की बच्चियां कौन सा और किस प्रकार का पहनावा पहन रखा था कि उन दरिंदों की आंखों में वात्सल्य की जगह वासना ने जन्म ले लिया। क्यों दुर्दांत अपराधियों ने बलात्कार जैसे अपराध कार्य कारित किए? क्या इस पर दंड विधान कुछ इस तरह का बना, जिससे आने वाले इन दरिंदों की पीढ़ियों को सबक मिल सके, कहने में हमें कतई गुरेज नहीं की असली चेहरों पर नकली चेहरा लगाकर, कहीं-कहीं हिंदू का चेहरा लगाकर लव जिहाद जैसा घिनौना खेल खेला जा रहा है। कितनी बहन बेटियों को हिंदू के नाम पर उन्हें बहला-फुसलाकर स्वयं को हिंदू बता कर लव जिहाद का जघन्य अपराध कार्य किया जा रहा है। उस पर भी ध्यान दें तो कहीं न कहीं कतिपय समाज के ठेकेदारी करने वाले, कुछ तो अपने आप को ही न्याय के पुतले कहते फिर रहे हैं जो इस घिनौने खेल में स्वयं शामिल होकर बहुत सी जिंदगियों को बर्बाद किया और कराया है। आज लव जिहाद का गंदा खेल शहर के प्रत्येक गली मोहल्ले गांव गांव तक खेला जा रहा है। यह जिहाद रूपी राक्षस अपने पैर जमाते चले जा रहे हैं, जिसका हम ओजस्विनी की बहनें मिलकर मुंह तोड़ जवाब देंगे। उनको जवाब देने के लिए हमें एकजुट होना पड़ेगा। डॉ. प्रवीण तोगड़िया के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद व ओजस्विनी परिषद की गांव स्तर तक की समितियों का गठन हम करेंगे और हम अपनी बहनों को जोड़कर संगठित कर एक दूसरे के पूरक बनकर लड़ेंगे। लव जिहाद जैसी मानसिकता को पनपने से पहले ही पहले ही उनको जड़ से उखाड़ फेंक देने का हम संकल्प लेते हैं। उनका समूल नष्ट  करने के लिए हम बहनों को दुर्गा और चंडी का स्वरूप धारण करना पड़ेगा जिससे आने वाले कल में  हमारी कोई भी बहन, कोई भी बच्ची इन दरिंदों के हैवानियत का शिकार ना हो सके। हम बता देना चाहते है कि सदैव हिंदू ही आगे रहा है, हिंदू आगे ही रहेगा, "हिंदू ही आगे" यही हमारा नारा होगा तभी हम सुरक्षित रहेंगे।

    *Ad : पैसा कम. प्रचार ज्यादा. सिर्फ नया सबेरा डॉट कॉम. जल्दी कीजिए। मो. 9807374781, 9792499320*
    Ad


    *Advt : रामबली सेठ आभूषण भण्डार (मड़ियाहूं वाले) | के. सन्स के ठीक सामने, कलेक्ट्री रोड, जौनपुर उ.प्र.*
    Advt.

    *Advt : वाराणसी खण्ड शिक्षा निर्वाचन क्षेत्र से रमेश सिंह प्रांतीय उपाध्यक्ष उ.प्र.मा​.शि.सं. के नाम के सामने वाले खाने में 1 लिखकर प्रथम वरीयता मत देकर शिक्षकों की आवाज बुलंद करने हेतु विधान परिषद भेजने की कृपा करें।*
    Advt.

    No comments