• Breaking News

    'FB कर्मचारी PM मोदी को कहते हैं अपशब्द' | #NayaSaberaNetwork

    नया सबेरा नेटवर्क
    नई दिल्ली। मोदी सरकार के केंद्रीय आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने फेसबुक के सीईओ मार्क ज़करबर्ग को चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी में रविशंकर प्रसाद ने संगीन आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि फेसबुक इंडिया में कई बड़े अफसर पीएम मोदी और कई कैबिनेट मंत्रियों को अपशब्द कहते हैं।जकरबर्ग को भेजे गए लेटर में रविशंकर ने लिखा है कि फेसबुक इंडिया की टीम राजनीतिक विचारधारा के आधार पर भेदभाव करती है।
    'FB कर्मचारी PM मोदी को कहते हैं अपशब्द' | #NayaSaberaNetwork


    प्रसाद ने खत में कहा है कि साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव से पहले फेसबुक इंडिया मैनेजमेंट ने दक्षिणपंथी विचारधारा के हिमायतियों के पेज डिलीट कर दिए थे या फिर उनकी रिच कम कर दी। जबकि फेसबुक को संतुलित और निष्पक्ष होना चाहिए था। उन्होंने आरोप लगाया कि फेसबुक इंडिया टीम में कई सीनियर अफसर एक खास सियासी नज़रिए के हिमायती हैं।

    मंत्री ने कहा कि फेसबुक को अपने यूज़र्स के लिए न सिर्फ निष्पक्ष होना चाहिए बल्कि दिखना भी चाहिए। चाहे वे किसी भी नज़रिए के मानने वाले क्यों न हों। उनके मुताबिक काबिल ऐतिमाद मीडिया रिपोर्टों से पता चला है कि फेसबुक इंडिया टीम के कई लोग एक खास नज़रिये को फॉलो करते हैं। इस नज़रिये के लोगों को मुल्क की अवाम दो बार आम चुनाव में पटखनी दे चुकी है।

    भाजपा और फेसबुक की ‘सांठगांठ' की तत्काल जांच हो, दोषियों को सजा मिले : कांग्रेस 
    कांग्रेस ने कुछ अंतरराष्ट्रीय मीडिया समूहों की खबरों का हवाला देते हुए मंगलवार को फेसबुक एवं भाजपा के बीच ‘सांठगांठ' होने का आरोप फिर लगाया और दावा किया कि भारत के लोकतंत्र एवं सामाजिक सद्भाव पर किया गया ‘हमला' बेनकाब हुआ है। मुख्य विपक्षी दल ने यह भी कहा कि इस पूरे प्रकरण की तत्काल जांच होनी चाहिए और दोषी पाए जाने पर लोगों को दंडित किया जाना चाहिए।

    पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेरिकी अखबार ‘वाल स्ट्रीट जर्नल' की हालिया खबर को ट्विटर पर शेयर करते हुए सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने दावा किया, ‘‘अंतरराष्ट्रीय मीडिया ने भारत के लोकतंत्र और सामाजिक सद्भाव पर फेसबुक एवं व्हाट्सऐप के खुलेआम हमले को बेनकाब कर दिया है।'' कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘किसी भी विदेशी कंपनी को भारत के आंतरिक मामलों में दखल की अनुमति नहीं दी जा सकती। उनकी तत्काल जांच होनी चाहिए और अगर वे दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें दंडित किया जाना चाहिए।'' उल्लेखनीय है कि व्हाट्सऐप का स्वामित्व फेसबुक के पास है। कांग्रेस ने एक बयान जारी कर आरोप लगाया कि फेसबुक और भाजपा की कथित सांठगांठ ने लोकतंत्र को चोट पहुंची है। 

    उसने दावा किया, ‘‘भाजपा का मकसद ‘फूट डालो, शासन करो' है और फेसबुक इसमें उसकी मदद कर रहा है। भाजपा और फेसबुक की इस सांठगांठ की जांच होनी चाहिए। हाल ही में ‘वाल स्ट्रीट जर्नल' अखबार और ‘टाइम पत्रिका' ने कुछ खबरें प्रकाशित की थीं जिनमें दावा किया गया था कि फेसबुक की भारतीय इकाई के कुछ पदाधिकारियों ने भाजपा को फायदा पहुंचाया। कांग्रेस के आरोपों पर पलटवार करते हुए भाजपा के आईटी प्रकोष्ठ के प्रमुख अमित मालवीय ने शनिवार को कहा कि किसी सोशल मीडिया कंपनी ने नहीं, बल्कि भारत के लोगों और कांग्रेस ने राहुल गांधी को खारिज किया है।

    *विज्ञापन : अपनों के साथ बांटें खुशियां, उन्हें खिलाएं उनका favourite Pizza | Order now - Pizza Paradise 9519149897, 9918509194 Wazidpur Tiraha Jaunpur*
    Ad

    *विज्ञापन : कभी असफल ना होने वाला उपचार कराएं, आज ही सम्पर्क करें - देव होम्यो क्योर एण्ड केयर | खानापट्टी (सिकरारा) जौनपुर | डॉ. दुष्यंत कुमार सिंह  मो. 8052920000, 9455328836*
    Ad

    *विज्ञापन : पूर्वांचल का सर्वश्रेष्ठ प्रतिष्ठान गहना कोठी भगेलू राम रामजी सेठ 1. हनुमान मंदिर के सामने, कोतवाली चौराहा, 9984991000, 9792991000, 9984361313, 2. सद्भावना पुल रोड नखास, ओलन्दगंज, 9838545608, 7355037762*
    Ad

    No comments