• Breaking News

    धनंजय के मामले में घटना के ही दिन से पुलिस की भूमिका संदिग्ध | #NayaSaveraNetwork

    • मुकदमे में एफआर लगने के एक माह बाद पुलिस ने दाखिल की चार्जशीट
    जौनपुर। पूर्व सांसद धनंजय सिंह और उनके सहयोगी विक्रम के खिलाफ नमामि गंगे के प्रोजेक्ट मैनेजर अभिनव सिंघल के अपहरण व रंगदारी मामले में पुलिस ने विवेचना कर आननफानन में आरोप पत्र सीजेएम के न्यायालय में दाखिल कर दिया, जबकि एक माह पूर्व तीन जुलाई को इस मामले में वादी श्री सिंघल के बयान के मद्देनजर इस मामले में फाइनल रिपोर्ट लग चुकी थी। इससे साफ जाहिर हो रहा है कि पुलिस किसी दबाव में यह कार्रवाई कर रही है। दरअसल इस मामले में नौ मई की रात में तीन घंटे के भीतर गिरफ्तारी, एफआईआर आदि की कार्रवाई ने यह जाहिर कर दिया कि किसी बड़े सफेदपोश का गला बचाने के लिए पुलिस आननफानन में अपनी भूमिका को संदेह के कटघरे में खड़े कर चुकी है। 
    धनंजय के मामले में घटना के ही दिन से पुलिस की भूमिका संदिग्ध | #NayaSaveraNetwork

    विदित हो कि जिले की लाइन बाजार पुलिस ने शहर के पचहटिया में नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत होने वाले कार्य में भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों को बचाने में जुट गयी थी। गिरफ्तारी के दौरान ही 10 मई को पूर्व सांसद धनंजय ने साफ तौर पर जिले के ही निवासी मंत्री गिरीश यादव पर सीधा आरोप लगाया था। तीन माह बाद तीन जुलाई को वादी सिंघल के बयान के मद्देनजर इस मामले में फाइनल रिपोर्ट लगाने वाली पुलिस ने विवेचक दारोगा कौशलेंद्र प्रसाद सिंह का तबादला गाजीपुर कर दिया। इसके बाद पूर्व सांसद श्री सिंह के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने का औचित्य फिर पुलिस को कटघरे में ला खड़ा किया। इससे साबित होता है कि पुलिस खुद नहीं चाहती कि किसी मामले की विवेचना जल्दी हो।
    एफआर के बाद आनन-फानन में फिर चार्जशीट लगाने का मतलब समझ से परे है। शायद फिर पुलिस मंत्री गिरीश यादव के दबाव में आकर यह कार्य कर रही है। इस मामले में भ्रष्टाचार की पोल जल निगम के अधिशासी अभियंता सुनील कुमार द्वारा 14 मई को जारी पत्र खोल रहा है। यह पत्र पूर्व सांसद की गिरफ्तारी का बाद का है। इससे जाहिर होता है कि भ्रष्टाचार के मामले को सतर्क अधिशासी अभियंता ने भांप लिया। खुद को बचाने के लिए उन्होंने यह पत्र लिखकर अपने उच्चाधिकारी को रिपोर्ट सौंप दी।
    दूसरी तरफ मुख्य अभियुक्त विक्रम सिंह को जमानत पहले ही मिल चुकी है अब पूर्व सांसद धनंजय सिंह की जमानत याचिका पर हाईकोर्ट में सुनवाई सात अगस्त को होनी है।

    धनंजय के मामले में घटना के ही दिन से पुलिस की भूमिका संदिग्ध | #NayaSaveraNetwork

    Come & Join The Fun On Our Grand Opening Day 7th August 2020 | 15% off Total Order | Free Home Delivery Order now - Pizza Paradise 9519149897, 9918509194 wazidpur Tiraha Jaunpur  | #NayaSaveraNetwork

    No comments