• Breaking News

    स्वतंत्रता सेनानियों के कठिन संघर्ष और बलिदान के बाद स्वतंत्र हुआ भारत : राज यादव | #NayaSaveraNetwork

    नया सवेरा नेटवर्क
    जौनपुर। 15 अगस्त 1947 का दिन भारतीय इतिहास में एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है। यह वर्ष 1947 का सबसे भाग्यशाली दिन था जब भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों के कठिन संघर्ष और बलिदान के बाद भारत स्वतंत्र हुआ। हमने कड़े संघर्ष के बाद आजादी हासिल की। यह बातें समाजवादी पार्टी के युवा नेता राज यादव ने कही।
    स्वतंत्रता सेनानियों के कठिन संघर्ष और बलिदान के बाद स्वतंत्र हुआ भारत : राज यादव | #NayaSaveraNetwork

    उन्होंने कहा कि जब भारत को अपनी स्वतंत्रता मिली, भारत की जनता ने अपने पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को चुना था, जिन्होंने पहली बार राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में लाल किले पर तिरंगा राष्ट्रीय ध्वज फहराया था। सभी लोग इस विशेष दिन को हर साल बहुत खुशी के साथ मनाते हैं। भारत को ब्रिटिश शासन की गुलामी से मुक्ति मिली थी। दुनिया के फलक पर भारत का एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में जन्म हुआ। स्वतंत्रता की वर्षगांठ को पूरे देश में उत्साहपूर्वक मनाया जाता है। सदियों पहले हम अंग्रेजों के गुलाम थे। उनके बढ़ते हुए अत्याचारों से सारे भारतवासी त्रस्त हो गए और तब विद्रोह की ज्वाला भड़की और देश के अनेक वीरों ने प्राणों की बाजी लगाई, गोलियां खाईं और अंतत: आजादी पाकर ही चैन ‍लिया। इस दिन हमारा देश आजाद हुआ, इसलिए इसे स्वतंत्रता दिवस कहते हैं।

    *विज्ञापन : प्रबुद्ध समाजसेवी पवन शुक्ला की तरफ से श्रीकृष्ण जन्माष्टमी एवं स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं*
    Ad


    *विज्ञापन : उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जौनपुर के जिलाध्यक्ष अमित कुमार सिंह की तरफ से स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं*

    *विज्ञापन : अंजू गिल एकेडमी परिवार की तरफ से स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं*

    *विज्ञापन : अपना दल व्यापार मण्डल प्रकोष्ठ के मंडल प्रभारी अनुज विक्रम सिंह की तरफ से स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं*

    *Advt : इंटेलेक्चुअल पब्लिक स्कूल बोदकरपुर सुक्खीपुर जौनपुर के प्रबंधक वसीउल्लाह अंसारी की तरफ से देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं*

    No comments