• Breaking News

    भारतेन्दु युग से शुरू होती है राष्ट्रवाद की अवधारणा : जगदगुरु रामभद्राचार्य | #NayaSaveraNetwork

    नया सवेरा नेटवर्क
    चित्रकूट। जगदगुरु रामभद्राचार्य दिव्यांग विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग द्वारा आयोजित एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबिनार आधुनिक हिंदी काव्य में राष्ट्रीय अवधारणा विषय पर कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए आजीवन कुलाधिपति जगदगुरु रामभद्राचार्य जी ने कहा कि आधुनिक बोली का प्रारंभ भारतेन्दु हरिश्चंद्र ने किया था। वे प्रबलतम राष्ट्र वादी और भाषावादी थे राष्ट्रवाद की अवधारणा इसी युग से शुरु होता हैं।
    भारतेन्दु युग से शुरू होती है राष्ट्रवाद की अवधारणा : जगदगुरु रामभद्राचार्य | #NayaSaveraNetwork

    महाकवि जयशंकर प्रसाद और हिन्दी जगत के राष्ट्र कवि मैथिली शरण सिंह ने भी हिन्दी साहित्य में अद्भुत अवदान दिया था। इसी प्रकार छायावाद के कवि सुमित्रा नंदन पंत ने राष्ट्र वाद की चर्चा की है। महाकवि निराला जी राष्ट्रवाद से परिपूर्ण थे। उन्होंने कहा था कि वर दे, भारत में भर दे। मां वीणावादिनी की वंदना से निराला ने महाप्राण राष्ट्रवाद में भर दिया। देश के विभिन्न विदानों ने अपने अपने तरीका से राष्ट्र की चर्चा की है। मैंने भी हिन्दी साहित्य के लिए दो महाकाव्य की रचना की है जिसमें पहला अरुंधती महाकाव्य  हैं दूसरा अष्टावक्र महाकाव्य जो दिब्यांगों की समस्या पर केंद्रित है। राष्ट्रवाद की अवधारणा बहुत ही प्राचीन है।

    इस राष्ट्रीय सेमीनार में कुलपति प्रो. योगेश चन्द्र दुबे, मुख्य अतिथि के रूप में डॉ. सभापति मिश्र पूर्व प्राचार्य हंडिया कालेज इलाहाबाद ने जगद्गुरु जी की हिंदी साहित्य में अवधारणा व अनुशीलन पर चर्चा करते हुए बताया कि जगद्गुरु जी की रचनाओं में राष्ट्रवाद का समावेश है।

    द्वितीय सत्र में मुख्य अतिथि प्रो. जंग बहादुर रांची विश्वविद्यालय रांची ने अपने हिन्दी साहित्य में तर्क पूर्ण विचार  व्यक्त किये। डाक्टर अंबिकेश त्रिपाठी प्रतापगढ़ ने कहा कि हिंदी साहित्य जगद्गुरु जी ने अद्भुत योगदान दिया है जो विद्वत समाज युगों-युगों तक याद करेगा। 

    वेबिनार की संयोजिका /संचालिका डॉ. किरण त्रिपाठी, सह- संयोजक डॉ. शांत चतुर्वेदी, होस्ट डॉ. शशिकांत त्रिपाठी,  डीन डॉ. विनोद कुमार मिश्र, निहार रंजन मिश्र, डॉ. रीना पांडेय, शोधकर्ता रूबी शुक्ला, अर्चना सिंह, संदेश पटेल, अनुराग चतुर्वेदी, प्रशांत चतुर्वेदी आदि कुल लगभग 150 लोगों ने आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। सभी आमंत्रित अतिथियों का आभार व्यक्त किया। डॉ. शांत चतुर्वेदी ने किया। यह जानकारी विश्वविद्यालय के सूचना जनसंपर्क अधिकारी एसपी मिश्र ने दी‌।

    #4thAnniversary : वरिष्ठ कांग्रेस नेता राकेश मिश्र 'मंगला गुरू' की तरफ से नया सबेरा परिवार को चौथी वर्षगांठ पर हार्दिक शुभकामनाएं
    Ad

    #4thAnniversary : माध्यमिक शिक्षक संघ जौनपुर के जिलाध्यक्ष संतोष सिंह की तरफ से नया सबेरा परिवार को चौथी वर्षगांठ पर हार्दिक शुभकामनाएं
    Ad

    #4thAnniversary : वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ. विजय कुमार सिंह की तरफ से नया सबेरा परिवार को चौथी वर्षगांठ पर हार्दिक शुभकामनाएं
    Ad

    No comments