• Breaking News

    पोटली पाकर खुश हो गये मजदूरों के बच्चे | #NayaSabera

    वाराणसी। कैन्ट रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर जब कोई ट्रेन पहुंचती है तो जनरल बोगी में बैठे प्रवासी मजदूर और उनके बच्चे भूख से व्याकुल होकर एक उम्मीद भरी नजर से देखते हैं। इस उम्मीद को पूरा किया अनाज बैंक के भोजनदूतों ने, जब वे ट्रेन के समय कैन्ट रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर विवेकानन्द सत्कार पोटली लेकर पहुंचे। मुम्बई से मुजफ्फरपुर तक का सफर तय करने वाली ट्रेन जब प्लेटफॉर्म पर रूकी तब अनाज बैंक के भोजनदूतों ने खिड़की से कहा आप लोग बाहर आ जाईये और पोटली ले लीजिये। मुजफ्फरपुर जा रहे शम्भू ने अपने बच्चे की तरफ इसारा करके कहा कि कुछ खाना बच्चों को मिल जाता क्योंकि ये दिनभर से भूखा है। भोजनदूतों ने जब पोटली पकड़ाई तब बच्चा खुश हो गया। इसी तरह और भी मजदूर मुम्बई से बिहार की तरफ जा रहे थे, आहार और पानी पाकर अनाज बैंक के भोजनदूतों को धन्यवाद कहा।

    विशाल भारत संस्थान द्वारा संचालित अनाज बैंक एवं परिवार संस्था के साथ मिलकर प्रवासी मजदूरों के लिये स्वामी विवेकानन्द सत्कार पोटली तैयार की जा रही है। इसमें सत्तू भरी मकुनी और मठरी विशाल भारत संस्थान की महिला कार्यकर्ताओं द्वारा सुभाष भवन में तैयार किया जा रहा है। देश के विभिन्न हिस्सों से आ रहे प्रवासी मजदूरों को अपने घर तक पहुंचने में कई घंटे लग जाते हैं, रास्ते में खाने-पीने का सामान नहीं मिलने से उन्हें भूख का सामना करना पड़ता है। अब सत्कार पोटली मिलने से घर पहुंचने तक उन्हें भूखा नहीं रहना पड़ेगा।

    इस अवसर पर अनाज बैंक के संस्थापक चेयरमैन डा० राजीव श्रीवास्तव ने बताया कि अनाज बैंक के भोजनदूत ट्रेन के समय प्लेटफॉर्म पर मौजूद रहकर सत्कार पोटली दे रहे हैं। 400 प्रवासी मजदूरों को सत्कार पोटली और 200 बच्चों को इन्द्रेश पोटली दी गयी। प्रवासी मजदूरों के लिये भोजन और पानी की व्यवस्था काशी के संस्कार के अनुरूप है। प्रतिदिन 400 से 500 प्रवासी मजदूरों को आहार और पानी दिया जायेगा। आहार में सत्तू भरी मकुनी और मठरी है जो किसी भी स्थिति में खराब नहीं होगी। इसके साथ सत्तू और लाई भी दिया जा रहा है जो विपरीत परिस्थिति में भोजन का विकल्प बनेगी। बच्चों के लिये इन्द्रेश पोटली खुशियों का खजाना है क्योंकि उसमें बच्चों की पसन्द का चिप्स और बिस्किट भी रखा गया है।

    स्वामी विवेकानन्द सत्कार पोटली और इन्द्रेश पोटली के साथ स्वामी विवेकानन्द और इन्द्रेश कुमार का सन्देश भी प्रवासी मजदूरों तक पहुंचाया जा रहा है।

    अनाज बैंक के इन्द्रेश उम्मीद वाहन को सुभाष भवन से कैन्ट स्टेशन के लिये सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता अशोक सहगल ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

    स्टेशन पर पोटली वितरण करने वाले भोजनदूत ताजीम भारतवंशी, मो० अजहरूद्दीन, रणधीर कुंअर राव, मुश्ताक अहमद, रोजा भारतवंशी, तबरेज भारतवंशी थे।

    Ad

    Nehru Balodyan Sr. Secondary School Kanhaipur, Jaunpur [Admission Open]
    Ad
    पूर्वांचल का सर्वश्रेष्ठ प्रतिष्ठान गहना कोठी भगेलू राम रामजी सेठ A Complete Wedding Jewellery Collection 1. हनुमान मंदिर के सामने, कोतवाली चौराहा, जौनपुर मो. 9984991000, 9792991000, 9984361313, 2. सद्भावना पुल रोड नखास, ओलन्दगंज, जौनपुर मो. 9838545608, 7355037762 नया शानदार आफर 15 जनवरी 2020 से लागू
    Ad




    No comments