• Breaking News

    चीन को कड़ा सबक सिखाएगा भारत | #NayaSabera

    लखनऊ। भारत-चीन सीमा विवाद और झड़प में देश के जाबांज सैनिकों की मृत्यु पर कायस्थ महासभा ने गहरा शोक जताते हुए इसे पड़ोसी देश की कायराना हरकत बताया है।

    अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओपी श्रीवास्तव के नेतृत्व में मोतीमहल में आयोजित समारोह में शहीद सैनिकों को श्रद्धासुमन अर्पित किये गये। ओपी श्रीवास्तव ने चीन को मानवता का दुश्मन बताया और कहा कि वह अपने साम्राज्य के विस्तार के लिये कितना नीचे गिर सकता है इसका प्रमाण है कि उसने पूरे विश्व को कोरोना की महामारी परोस दी है।
    चीन को कड़ा सबक सिखाएगा भारत | #NayaSabera

    उन्होंने कहा कि चीन की फैलाई इस महामारी से आज समस्त विश्व के लोग लड़ रहे हैं। श्रीवास्तव ने कहा कि चीन बौखला गया है इस कारण उसने धोखे से प्रतिघात कर लद्दाख सीमा पर भारतीय सैनिकों से मुठभेड़ किया जिससे  हमारे 20 सैनिक बलिदान हो गये। पूरे देश ने ही नहीं बल्कि दुनिया के अनेक देशों ने चीन के इस हरकत की कटु निंदा की है। 

    ओपी श्रीवास्तव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के सबल व सशक्त नेतृत्व में भारत, चीन को कड़ा सबक सिखाएगा। उन्होंने कहा कि यह मौका है जबकि चीन को सामरिक ही नहीं आर्थिक मोर्चे पर भी सबक सिखाया जाए। भारत का हर नागरिक अपने इस दुश्मन मुल्क को उसी की भाषा में जवाब देना जानता है। शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित करने वालों में प्रदेश अध्यक्ष पूर्वी हृदय नारायण श्रीवास्तव, राजनैतिक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष शेखर कुमार, प्रमोद निगम, डॉ. बीएस लाल, राजेश श्रीवास्तव और मुनीन्द्र श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।

    *High Class Men's Wear Olandganj Jaunpur  Mohd. Meraj Mo 8577913270, 9305861875*
    Ad

    *प्रवेश प्रारम्भ सत्र 2020—21 - कमला नेहरू इण्टर कालेज | प्रथम शाखा — अकबरपुर आदमपुर निकट शीतला चौकियां धाम जौनपुर | द्वितीय शाखा — कादीपुर—कोहड़ा निकट जमीन पकड़ी जौनपुर | तृतीय शाखा — करमहीं निकट सेवईनाला जौनपुर | सम्पर्क सूत्र — 7755817891, 9415896695, 9453725649, 8853746551*
    Ad
    *वाराणसी खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से आपका अपना साथी रमेश सिंह मो. 9415234771, 9628110730 प्रांतीय उपाध्यक्ष उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ, प्रवक्ता ग्रामोदय इण्टर कालेज गौराबादशाहपुर, जौनपुर के नाम के सामने वाले खाने में (1) लिखकर प्रथम वरीयता मत देकर शिक्षकों की आवाज बुलंद करने हेतु विधान परिषद भेजने की कृपा करें।*
    Advt




    No comments