• Breaking News

    लॉकडाउन का पालन कराना लोक कलाकार को पड़ा भारी, दबंगों ने मारपीट कर किया घायल | #NayaSabera

    अमित शुक्ला
    मुंगराबादशाहपुर, जौनपुर। स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम सोहासा (अतरौड़ा) में पट्टीदारों ने अपने ही चाचा के परिवार को मारपीट कर घायल कर दिया। उनका दोष सिर्फ इतना ही था कि वह लॉकडाउन का पालन कराना चाह रहे थे। पीड़ितों ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी है।

    बताते हैं कि उक्त गांव निवासी विशाल सिंह, विकास सिंह पुत्रगण सभाजीत सिंह, शुभम सिंह, शिवम सिंह पुत्र दारा सिंह जो गत दिनों सूरत से अपने घर आए और अपने घरों में रह रहे थे। परिवार के लोगों ने कहा कि आप लोग एक जगह रहें छुआछूत ना करें। जिस पर चारों लोगों ने एतराज जताते हुए अपने ही चाचा प्रख्यात लोकगायक राम सिंह की पत्नी पप्पी सिंह, बेटी निकेता सिंह, भाभी पार्वती सिंह के साथ मारपीट किया। मारपीट की सूचना पाकर लोक कलाकार राम सिंह भी मौके पर पहुँच गए जहाँ चारों लोग व इनके पिता ने मिलकर राम सिंह के ऊपर भी उक्त दबंगों ने लात-घूसे, लाठी–डण्डे से जमकर मारपीट दिया जिससे राम सिंह गम्भीर रुप से घायल हो गए।

    राम सिंह ने बताया कि मैं सात भाई हूँ उन्हीं में से दो भाई और उनके चारों बेटों ने मेरे परिवार को मारा। राम सिंह ने कहा कि मैं किसी पंचायत में गया था। मारपीट की सूचना पाकर मैं घर आया और अपने दोनों भाइयों और चारों भतीजों को समझाने लगा। उक्त लोगों ने मुझे बैठाया और अचानक मेरे ऊपर हमला कर दिया।

    राम सिंह ने कहा कि लात-घूसों, लाठी-डंडों से मेरे ऊपर इस कदर प्रहार किया कि मेरा पैर फैक्चर हो गया और गम्भीर चोटें आयी हैं। जब अपने ऊपर हुए हमले की सूचना पुलिस को देना चाहा तो उन लोगों ने मेरा मोबाइल भी छीन लिया।

    भुक्तभोगी की तहरीर पर पुलिस ने विशाल सिंह पुत्र सभाजीत सिंह, विकास सिंह पुत्र सभाजीत सिंह, शुभम सिंह पुत्र दारा सिंह, शिवम सिंह पुत्र दारा सिंह के विरुद्ध धारा 504, 323 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर आरोपियों की धरपकड़ के लिए दबिश देना शुरू कर दिया है। चारों आरोपी और उनके पिता सभी फरार हैं। पुलिस तलाश में जुटी हुई है।

    बताते हैं कि राम सिंह क्षेत्र के एक अच्छे लोकगायक कलाकारों में है। राम सिंह द्वारा नाक से बांसुरी वादन की चर्चा समूचे क्षेत्र ही नहीं बल्कि पूर्वांचल के कई जिलों में होती है।

    Ad


    Ad

    Nehru Balodyan Sr. Secondary School Kanhaipur, Jaunpur [Admission Open]
    Ad




    No comments