• Breaking News

    ईद सौहार्द और समरसता का पर्व है : मौलाना महफुज़ुल हसन खां | #NayaSabera

    जौनपुर। ईद का त्योहार मुस्लिम समाज में बड़ी अहमियत रखता है, यह पर्व भाईचारा को बढ़ावा देता है। इस वर्ष लॉकडाउन की वजह से शाही ईदगाह और सदर इमामबाड़ा  ईदगाह बेगमगंज तथा अन्य मस्जिदों में सार्वजनिक तौर पर नमाज़े ईद अदा नहीं की जा सकी। ईद के मौके पर शिया जामा मस्जिद नवाब बाग के इमामे जुमा मौलाना महफुज़ुल हसन खां ने अपने एक संदेश में ईद की मुबारकबाद देशवासियों को दी।

    उन्होंने ईद को भाईचारा को बढ़ावा देने वाला त्यौहार बताया है। उन्होंने कोरोना वायरस के खत्म होने के लिए खुसूसी दुआ की और मुसलमानों का आह्वान किया कि वोह इस संकट की घड़ी में ज़्यादा से ज़्यादा इबादत करें और अल्लाह से दुआ करें कि कोरोना वायरस खत्म हो और पूरी दुनिया में जो बेरोज़गारी की वजह से गरीबी बढ़ रही है उसमें  कमी हो, आर्थिक स्थिति दुरुस्त हो। 

    इस मौके पर हाजी सै. मोहम्मद हसन, अली मंज़र डेज़ी, वरिष्ठ समाजसेवी डॉ. शकील अहमद, खान इक़बाल मधु, तालिब रज़ा शकील एडवोकेट, सै. परवेज़ हसन, तहसीन अब्बास सोनी, सै. मोहम्मद मुस्तफा, शाहिद मेंहदी, शाहिद रिज़वी गुड्डू, सैयद असलम नकवी, नासिर रज़ा गुड्डू , मोहम्मद मुस्लिम हीरा इत्यादि ने ईद की मुबारकबाद दी।

    Youtube :



    समाजवादी अल्पसंख्यक सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष मो. आजम खान की तरफ से प्रदेशवासियों को ईद मुबारक | #NayaSabera
    Ad

    Ad

    No comments