• Breaking News

    हे श्रमिक तुम वापस आ रहे हो | #NayaSabera

    हे श्रमिक तुम वापस आ रहे हो
    गांव की पीपल की छांव में
    हर गांव का व्यक्ति दुखी है
    कोरोना खेलने के ताव में।

    श्रमिक से पूछो कैसे उसने
    दिन दोपहर और रात बिताई है,
    भूख की अग्नि बुझाने के लिए
    पानी से भूख मिटाई है।

    गरीबों पर ही दुख आता है
    रईसों पर दुख का साया नहीं
    भगवान भी दुख उसी को देता है
    जिसका इस जग में सहारा नहीं।

    हम अपने घरों में बैठे हैं
    भोजन पानी का भोग कर रहे हैं,
    मजदूर की आत्मा से पूछो जो
    एक वक्त भोजन के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

    करोना ने मध्यम वर्ग को चूर कर दिया
    उनकी अभिलाषा को अपने में समेट लिया
    पूंजीपति ने अपना असली रंग दिखा दिया
    दुख के दिन आए तो घर का रास्ता दिखा दिया।

    श्रमिक का हाल पूरा देश देख रहा है
    हर कोई उस पर आंखें सेंक रहा है
    कहीं करोना से लड़ रहा है तो
    कहीं भोजन के लिए संघर्ष कर रहा है।

    जय हिंद, जय भारत












    - रितेश कुमार मौर्य
    छात्र — एम.ए. प्रथम वर्ष हिन्दी
    राजा श्री कृष्ण दत्त पीजी कालेज (राज कालेज), जौनपुर
    मो. +91 8576091113

    Youtube :
    Naya Sabera  Jaunpur Live  Manoranjan Metro


    No comments