• Breaking News

    मस्जिद की जगह घर पर पढ़ें नमाज : ओवैसी

    नई दिल्ली। कोरोना वायरस ने पूरे देश को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन कर दिया है। प्रशासन ने धार्मिक स्थलों को भी बंदी के दायरे में रखा है। नवरात्रि में एक तरफ जहां देवी के मंदिरों के कपाट बंद हैं, वहीं आज शुक्रवार को लॉकडाउन के बीच पहला जुमा है। प्रशासन ने अपील की है कि लोग मस्जिद की जगह घर में ही नमाज पढ़ें।

    सरकार ने कोरोना को खत्म करने के लिए समाजिक दूरी का आह्वान किया है। ऐसे में प्रशासन इस बात को लेकर सतर्क है कि मस्जिदों में नमाज के नाम पर लोग एक जगह एकत्र न हों। इस बीच हैदराबाद के सांसद एवं एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिम समाज के लोगों से अपील की है कि लोग घर पर ही नमाज पढ़ें।

    असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिम समाज से अपील करते हुए ट्वीट किया है, मेरी सभी मुसलमानों से अपील है कि आज जोहर की नमाज अपने घर से करें और कहीं भी एकत्र न हों। उन्होंने घर पर ही नमाज पढ़ने पर जोर दिया।

    धर्मगुरुओं ने भी की है अपील
    मुस्लिम समाज से जुड़े तमाम धर्मगुरुओं ने भी लोगों से अपील करते हुए कहा कि मस्जिद की जगह घर से ही नमाज पढ़ें। हालांकि मस्जिदों में नमाज जारी रहेगी और कुछ लोग ही अंदर जा सकेंगे।

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए देशवासियों से 21 दिनों तक घर में रहने की अपील की थी। उन्होंने लॉकडाउन की घोषणा करते हुए इसे सख्ती से पालन करने की बात कही थी। आज शुक्रवार है और लॉकडाउन का तीसरा दिन है।


    Ad
    Ad

    Ad

    No comments