• Breaking News

    Corona की जंग में उतरेगी सेना, जानिए कैसे

    नई दिल्ली। भारत में बढ़ते कोरोनावायरस के मामलों के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को संकट से निपटने के लिए सुरक्षा बलों की तैयारियों की समीक्षा की। ऐसा माना जा रहा है कि जो राज्य कोविड-19 के प्रतिबंधों को सही तरीके से लागू करने में सक्षम नहीं हैं या जहां पर सेना या पैरा मिलिटरी फोर्स की मांग की जा रही है, उन राज्यों में जल्द ही सेना तैनात की जा सकती है।
    File Photo
    देश के लगभग सभी राज्यों में दिनों-दिन कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से इजाफा दर्ज हो रहा है। ऐसे में कुछ राज्यों में लोग लॉकडाउन के बावजूद अनावश्यक सड़कों पर आकर कोरोना वायरस के फैलने का कारण बन रहे हैं। लगभग सभी राज्य सरकारें केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करने के साथ-साथ अपने स्तर भी एहतियाती कदम उठा रही हैं।

    कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में और क्या किया जा सकता है, इस पर चर्चा करने के लिए राजनाथ सिंह ने चीफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, रक्षा सचिव अजय कुमार और सशस्त्र बलों के प्रमुखों के साथ समीक्षा बैठक की। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि भारत में कोरोनोवायरस के कुल मामलों की संख्या 649 हो गई है और मौत के मामले 13 हैं। वहीं मंत्रालय ने जानकारी दी कि 649 मामलों में से 42 लोग ठीक हो गए हैं।

    जनरल रावत ने बुधवार को कहा था कि सशस्त्र बलों को अपने शासनादेश से परे जाकर काम करना होगा और कोरोनोवायरस के खिलाफ लड़ाई में देश की मदद करनी होगी। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पूर्ण रूप से लॉकडाउन की घोषणा के बाद बुधवार को रायसीना हिल्स स्थित आइकॉनिक साउथ ब्लॉक में भारतीय सेना का मुख्यालय बंद रहा। यहां गुरुवार को मात्र 20 प्रतिशत कर्मचारी काम कर रहे थे।

    Ad

    Ad

    Nehru Balodyan Sr. Secondary School Kanhaipur, Jaunpur [Admission Open]
    Ad

    No comments