• Breaking News

    कोरोना वायरस : इन दो प्रदेश में कर्फ्यू, घरेलू उड़ानें भी रद्द

    नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 415 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। देश के अधिकतर हिस्सों में सोमवार को लॉकडाउन का खासा असर देखने को मिला। इस बीच केन्द्र सरकार ने वायरस पर नियंत्रण के लिये लागू पाबंदियों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है।  अब घरेलू रूटों पर चलने वाली विमान कंपनियों की भी फ्लाइट्स बंद हो गई हैं। मंगलवार आधी रात के बाद कोई भी घरेलू फ्लाइट उड़ान नहीं भरेगी। 19 मार्च को ही सरकार ने सभी विमानन कंपनियों को निर्देश जारी किया था कि 22 मार्च से कोई भी इंटरनेशनल फ्लाइट्स भारत से उड़ान नहीं भरेगी। बता दें कि कोरोना वायरस से दुनियाभर में 14,500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में अब तक सात लोग जान गंवा चुके हैं। 

    एम्स 24 मार्च से आगामी सूचना तक ओपीडी बंद करेगा 
    एम्स ने 24 मार्च से आगामी आदेश तक विशेष सेवाओं समेत ओपीडी, सभी नये और पुराने मरीजों का रजिस्ट्रेशन बंद करने का आदेश जारी किया है।

    राज्यों को पीएम का निर्देश, सख्ती से पालन कराएं लॉकडाउन
    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्य सरकारों से यह सुनिश्चित करने के लिये कहा है कि लॉकडाउन के नियमों का सही ढंग से पालन हो रहा है क्योंकि उन्होंने ध्यान दिया है कि कुछ लोग इसका गंभीरता से पालन नहीं कर रहे हैं। उन्होंने हिंदी में ट्वीट किया, ''लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं।''

    पंजाब, महाराष्ट्र में कर्फ्यू, असम में लॉकडाउन
    पंजाब सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सोमवार को कर्फ्यू लागू कर दिया। ऐसा बड़ा कदम उठाने वाला देश का यह पहला राज्य है। अधिकारियों ने बताया कि लोग लॉकडाउन का पालन नहीं कर रहे थे, इसलिए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कर्फ्यू की घोषणा की। इस दौरान जरूरी सेवाओं को छोड़कर सभी सेवाओं पर पाबंदी रहेगी। इसके अलावा महाराष्ट्र में भी कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है। सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा है कि देश के राज्य का  वहीं असम में भी 31 मार्च तक के लिए लॉकडाउन किया गया है।  

    31 मार्च तक देशभर में नहीं चलेंगी बसें और ट्रेन, जरूरी सेवाओं पर नहीं कोई रोक
    दिल्ली, झारखंड और नगालैंड ने राज्यव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की है, जबकि बिहार, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में कई जिलों में भी ऐसी ही घोषणा की जा चुकी है। महाराष्ट्र, केरल, राजस्थान और उत्तराखंड सहित कई राज्य पहले ही आंशिक या पूर्ण लॉकडाउन घोषित कर चुके हैं। दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरू और चेन्नई समेत देशभर के 80 जिलों में ट्रेन और अंतर-राज्यीय बस सेवाएं 31 मार्च तक निलंबित होने से लोगों की यात्रा और आवाजाही पर पाबंदी लगी है।

    उल्लंघन करने वालों पर होगी कार्रवाई
    केंद्र ने राज्य सरकारों को लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए कहा है। सरकार के संचार विंग प्रेस इनफॉर्मेशन ब्यूरो (पीआईबी) ने ट्वीट किया, ''राज्यों से कहा गया है कि वे उन क्षेत्रों में लॉकडाउन को सख्ती से लागू करें, जहां इसकी घोषणा की गई है। उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।''

    एक ही दिन में देशभर से समाने आए 55 मामले
     देश ने अलग-अलग हिस्सों से कोरोना वायरस से संक्रमण के 55 नए मामले सामने आए हैं, जिससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 415 हो गई है। इनमें से सात लोगों की मौत हो चुकी है। संक्रमितों में 41 विदेशी नागरिक हैं। गुजरात, बिहार और महाराष्ट्र में रविवार को एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कर्नाटक, दिल्ली, महाराष्ट्र और पंजाब ने चार लोगों की मौत की खबर दी है। 24 लोगों को इलाज के बाद छुट्टी दी जा चुकी है।

    सोमवार तक 18383 नमूनों की पूरी हुई जांच
    भाारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने कहा कि सोमवार सुबह 10 बजे तक 18,383 नमूनों की जांच की जा चुकी है। यह तत्काल स्पष्ट नहीं हुआ है कि नये मामले कहां से आए हैं। मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमण के 67 मामले हैं जिनमें तीन विदेशी नागरिक शामिल हैं। केरल से भी 67 मामले सामने आए हैं जिनमें सात विदेशी शामिल हैं। दिल्ली में संक्रमित लोगों की संख्या एक विदेशी समेत 29 है जबकि उत्तर प्रदेश में एक विदेशी समेत 28 लोग संक्रमित हैं। राजस्थान में दो विदेशी नागरिकों समेत 27 लोग संक्रमण से ग्रस्त हैं। तेलंगाना में 11 विदेशी समेत 26 लोग संक्रमित हैं। कर्नाटक में कोरोना वायरस के 26 मरीज हैं।

    देशभर से सामने आ रहे मामले
    हरियाणा, पंजाब, गुजरात, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश और उत्तराखंड सहित देश भर से मामले सामने आए हैं। इस बीच, सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए उन कैदियों को श्रेणीबद्ध करने के लिये उच्चस्तरीय समिति गठित करने का निर्देश दिया, जिन्हें पैरोल पर रिहा किया जा सकता है। वहीं, सीएए के खिलाफ मुंबई के नागपाडा में सीएए के खिलाफ चल रहे 'मुंबई बाग' विरोध प्रदर्शन को रोक दिया गया है। प्रदर्शन में शामिल लोगों ने यह जानकारी दी। यह प्रदर्शन इस साल 26 जनवरी से चल रहा था। इधर तमिलनाडु में मंगलवार शाम छह बजे से 31 मार्च तक लॉकडाउन लागू रहेगा।

    पटना में 10 विदेशी धार्मिक उपदेशकों सहित 12 को हिरासत में लेकर जांच के लिए भेजा गया 
    पटना के दीघा थाना क्षेत्र में कुर्जी मोहल्ला स्थित एक मस्जिद से पुलिस ने 10 विदेशी धार्मिक उपदेशकों सहित 12 लोगों को हिरासत में लेकर कोरोना वायरस संबंधी जांच के लिए सोमवार सुबह एम्स भेजा।

    पूर्वांचल का सर्वश्रेष्ठ प्रतिष्ठान गहना कोठी भगेलू राम रामजी सेठ A Complete Wedding Jewellery Collection 1. हनुमान मंदिर के सामने, कोतवाली चौराहा, जौनपुर मो. 9984991000, 9792991000, 9984361313, 2. सद्भावना पुल रोड नखास, ओलन्दगंज, जौनपुर मो. 9838545608, 7355037762 नया शानदार आफर 15 जनवरी 2020 से लागू
    Ad
    Advt
    किसी भी प्रकार के लोन के लिए सम्पर्क करें अधिकृत - विनोद यादव मो. 8726292670, कस्टमर केयर नम्बर : 8707026018
    Ad

    No comments