• Breaking News

    जौनपुर : बाहर से आये 16 लोगों के घर पहुंची स्वास्थ्य टीम, आस—पास मचा हड़कम्प

    जौनपुर। जिले के मुंगराबादशाहपुर, सुइथाकलां और सुरेरी के अलग—अलग 16 लोगों के घर स्वास्थ्य टीम के पहुंचते ही हड़कम्प मच गया।
    जौनपुर : बाहर से आये 16 लोगों के घर पहुंची स्वास्थ्य टीम, आस—पास मचा हड़कम्प

    मुंगराबादशाहपुर : स्थानीय थाना क्षेत्र के नगर सहित विभिन्न गांव में विदेश एवं देश के अन्य बाहरी शहरों से अपने पैतृक घर आए लोगों की सूचना मिलने पर प्रभारी चिकित्साधिकारी के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीमें उनके घर पहुंची और उनकी जांच पड़ताल करने के बाद उन्हें सेल्फ आइसोलेशन की सलाह दिया। गुरु वार को दिन में लगभग 12 बजे प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरपी सिंह द्वारा क्षेत्र के राजेश कुमार पुत्र अशोक कुमार निवासी बुढ़नशापुर विगत एक मार्च को दुबई से आया था, अशोक कुमार पुत्र रामचन्द्र निवासी बुढ़नसापुर 2 मार्च को दुबई से आया था , जितेन्द्र कुमार पुत्र कल्लू राम निवासी भैरोपुर विगत 2 मार्च को दुबई से आया था, उदय राज पुत्र राजमणि इटहरा 14 मार्च को दुबई से आया था, मनीष त्रिपाठी पुत्र अनिल त्रिपाठी निवासी बहोरिकपुर 19 फरवरी को अमेरिका से आया था, कृतिका केसरवानी पुत्री शिवम गुप्ता निवासी साहबगंज 27 फरवरी को इंडोनेशिया से आयी थी, गुलाब चन्द्र पटेल पुत्र राधेश्याम निवासी सोहासा 18 मार्च को दुबई से आया था और समसुद्दीन पुत्र मोहम्मद इदरीश हेमापुर तरहठी विगत 3 मार्च को सऊदी से आया था। सबकी जांच कर निर्देशित किया गया।

    सुईथाकलां : स्थानीय विकास खण्ड के विभिन्न गांवों में विदेश एवं देश के अन्य बाहरी हिस्सों से अपने गाँव आए लोगों की सूचना मिलने पर प्रभारी चिकित्साधिकारी के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीमें उनके घर पहुंची और उनकी जांच पड़ताल करने के बाद उन्हें सेल्फ आइसोलेशन में रहने की सलाह दी। टीम द्वारा क्षेत्र के अर्सिया निवासी मुकेश पुत्र लोदई दुबई, भरारी निवासी बदरूद्दीन पुत्र इस्लाम सऊदी अरब, भुसौड़ी  निवासी नौशाद पुत्र नन्हकऊ सउदी अरब, अखिलेश पुत्र रामआसरे कतर, समोधपुर निवासी शमशाद पुत्र वहीद बोर्नियो, मदारीपुर भेला निवासी चन्द्रभान पुत्र झपसी सउदी अरब व दुमदुमा निवासी सुबहान पुत्र रमजान सउदी अरब से लोग अपने पैतृक गांव आए थे।

    सुरेरी : नेवढ़िया थाना क्षेत्र के चकईपुर गाँव में घर आये युवक की सूचना ग्रामीणों द्वारा कई दिनों से स्वास्थ्य विभाग को मिल रही थी। सूचना पर गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने युवक के घर पहुंचकर जांच किया तो युवक को खांसी, बुखार व सिरदर्द होने से स्वास्थ्य विभाग युवक को 14 दिनों तक किसी के संपर्क में न आने की बात कहकर वापस लौट गई। बताते हैं कि नेवढ़िया थाना क्षेत्र के चकईपुर निवासी सुनील पटेल पुत्र स्व. रामधनी सूरत में रहकर एक कंपनी में काम करता था। कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ने पर जब कम्पनी बंद हो गई तो युवक ट्रैन के माध्यम से 20 मार्च को अपने घर आ गया और तभी से युवक को खांसी बुखार सरदर्द की शिकायत थी। जिसे देख ग्रामीणों में तरह तरह की चर्चाएं थी वहीं ग्रामीणों द्वारा लगातार सूचना पर गुरुवार दोपहर को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पहुचकर संदिग्ध युवक को 14 दिनों के लिए एक अलग कमरे में रहने के साथ साथ किसी  के संपर्क में नहीं रहने का सुझाव देकर वापस लौट गई जबकि युवक के अंदर खासी बुखार के लक्षण से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। वहीं अधीक्षक रामपुर प्रभात यादव ने बताया कि कोरोना वायरस का लक्षण नहीं है आजकल खांसी बुखार स्वाभाविक बात है, इसलिए घबराने की बात नहीं है शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम दोबारा पहुंचकर युवक के तबियत की जायजा लेगी।

    Ad
    Ad

    Ad

    No comments