• Breaking News

    Jaunpur : विकास कार्य में धांधली का आरोप, सीएम से शिकायत

    जलालपुर, जौनपुर। स्थानीय विकासखण्ड क्षेत्र के  बराई गांव के ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री पोर्टल व मुख्य विकास अधिकारी को भेजे शिकायती पत्र में ग्राम प्रधान पर प्रधानमंत्री आवास के नाम पर 20-20 हजार रुपये  तथा शौचालय के नाम पर सुविधा शुल्क मांग करने का आरोप लगाया है। आरोप यह भी हैं कि विकास कार्यों का सिर्फ कागजी घोड़ा दौड़ा कर भुगतान करा लिया गया है।
    बताते हैं कि गांव निवासी कमलेश मिश्रा, सुशील कुमार, राकेश हरिजन, कल्लू बनवासी, चन्द्रबली, शशिधर सहित दर्जनों लोगों ने मुख्यमंत्री पोर्टल व मुख्य विकास अधिकारी जौनपुर को दिये शिकायती पत्र में आरोप लगाया कि जब से बराई ग्राम सभा का गठन हुआ है। तभी से लेकर गांव के किसी भी तरह का विकास कार्य ग्राम प्रधान के द्वारा नहीं कराया गया है। गांव में गंदगी के अम्बार लगा पड़ा हैं। सड़कों हालत दयनीय है। गांव में लोगों को मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है, ग्राम प्रधान व ग्राम सचिव की मिलीभगत से अपात्रों का जॉब कार्ड बनवा दिया गया हैं। जिसमें मनरेगा के तहत होने वाले कार्यों का बगैर कार्य कराये भुगतान कराया जा रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ पाने वाले राकेश, कल्लू वनवासी, चंद्रबली ने बताया कि योजना का लाभ देने के लिए ग्राम प्रधान द्वारा 20-20 हजार रूपये लिए गये सुविधा शुल्क न देने की वजह से झोपड़ी में रहने वाले कन्हाई, हसीना, सुलेमान, नन्हे, आज भी आवास योजना के लाभ से वंचित है। इतना ही नहीं शौचालय योजना के तहत कमलेश मिश्रा, शशिधर मिश्रा सहित कई लोगों ने आरोप लगाया हैं कि मेरे नाम पर कागजों में शौचालय निर्माण कार्य कराकर भुगतान करा लिया गया है। गांव के कई खडंजों को भी सिर्फ कागजों में ही निर्माण करा करके पैसों का भुगतान करा लिया गया है।
    ग्रामीणों ने बताया कि कई बार खण्ड विकास अधिकारी जलालपुर से शिकायत भी किया गया लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई थक हारकर हम लोगों ने सीएम से शिकायत किया है और उच्चाधिकारियों से विकास कार्यों की जांच कराये जाने की मांग की है। वहीं ग्राम प्रधान प्रतिनिधि पन्ना लाल पटेल ने कहा कि ग्रामीणों द्वारा लगाये गये सारे आरोप निराधार है। विकास कार्य में कोई धांधली नहीं की गई है।

    Ad

    Ad

    Ad

    No comments