• Breaking News

    Jaunpur : अवैध कब्जा रोकने गये लेखपाल पर अवैध कब्जेधारियों ने बोला हमला


    • मारपीट कर किया लहूलुहान हालत नाजुक, इलाहाबाद रेफर

    दीपक शुक्ला
    मुंगराबादशाहपुर, जौनपुर। स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम सराय रु स्तम में सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा कर रहे लोगों को रोकने गये हल्का लेखपाल राहुल सिंह व उनके साथी लेखपाल धीरेन्द्र सिंह राजपूत पर लगभग दर्जन भर अवैध कब्जा धारियों ने लाठी-डंडे, पटरी और फावड़ा से हमला बोल दिया। जब तक वह कुछ समझ पाते तब तक अवैध कब्जाधारी लगभग एक दर्जन की संख्या में लोगों ने उन्हें व उनके साथी लेखपाल को मारपीट कर घायल कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही प्रशासनिक महकमे में हड़कम्प मच गया। एसडीएम सहित वरिष्ठ अधिकारी एवं बड़ी संख्या में पुलिस मौके पर पहुंच गयी।

    बताते हैं कि स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम सराय रु स्तम में सरकारी जमीन पर गांव के ही राज धर्मेंद्र कुमार उर्फ धरती लाल पुत्र राजपति द्वारा अवैध रूप से कब्जा करके पक्का आरसीसी निर्माण कराया जा रहा था जिसकी सूचना मिलने पर तहसील प्रशासन द्वारा मौके पर हलका लेखपाल राहुल सिंह को भेजा गया। हल्का लेखपाल राहुल सिंह अपने साथी बड़ागांव गांव के लेखपाल धीरेंद्र सिंह राजपूत के साथ अपनी बाइक से मौके पर पहुंचकर उन लोगों को निर्माण कार्य रोकने की बात कहे। इतने में लगभग एक दर्जन की संख्या में महिला और पुरु ष अवैध कब्जाधारियों ने दोनों लेखपालों पर लाठी-डण्डे, पटरी व फावड़े से हमला कर दिया।

    जिससे दोनों लेखपाल लहूलुहान हो गए। आस-पास के लोगों ने दौड़कर बचाने का प्रयास किया तब तक लेखपाल राहुल सिंह को अवैध कब्जाधारियों ने बुरी तरह से मारपीट दिया जिससे उनके मुंह और नाक से खून बहने लगा। सूचना मिलते ही तहसील प्रशासन व पुलिस विभाग में हड़कम्प मच गया आनन-फानन में एसडीएम अमिताभ यादव, नायब तहसीलदार कृष्ण राज सिंह यादव, राजस्व निरीक्षक राजेश यादव सहित लगभग दो दर्जन से अधिक लेखपाल घटनास्थल पर पहुंचे और स्थानीय थाने से बड़ी संख्या में पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा।

    आस-पास के लोगों ने घायल दोनों लेखपालों को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मुंगराबादशाहपुर में भर्ती कराया जहां पहुंचने पर एसडीएम ने अपनी देख-रेख में दोनों का प्राथमिक उपचार और चिकित्सीय परीक्षण कराने के बाद बेहतर उपचार के लिए स्वरूपरानी अस्पताल प्रयागराज के लिए रेफर कर दिया और मौके पर जाकर अवैध कब्जा कर कब्जाधारियों द्वारा कराए जा रहे निर्माण कार्य को जेसीबी की मदद से ध्वस्त करा दिया। घटना से समूचे गांव में तनाव बना हुआ है और बड़ी संख्या में सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस बल तैनात किया गया है। इस सम्बन्ध में एसडीएम अमिताभ यादव ने बताया कि अवैध कब्जाधारियों एवं हमलावरों की पहचान करायी जा रही है। उनके विरुद्ध संबंधित धाराओं में प्राथिमिकी दर्ज कराकर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

    Ad
    Ad
    Ad

    No comments