• Breaking News

    Jaunpur : डॉ. रिज़वी लर्नर्स एकेडमी में मनाया गया दादा-दादी दिवस

    St. Xavier School Shakaramandi Jaunpur Presents Run Jaunpur Run | 9th Feb 2020 Time : 7:00 | Venue : Police Line Ground Jaunpur
    Ad
    जौनपुर। आधुनिक समय में जब बुजुर्ग उपेक्षा का शिकार बनते जा रहे है तो लोगों को जागरूक करने और बच्चों को इस दिशा में प्रेरित करने के लिए डॉ. रिज़वी लर्नर्स एकेडमी में शुक्रवार को “दादा-दादी दिवस” हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। 
    Ad
    Ad
    Teachers required for all the subjects. Interested candidates can apply. Interview Date : 15th February 2020. (10.00 am. to 2.00 pm.) | Mount Litera Zee School Jaunpur | to know more call 7311171181, 7311171182, 9320063100
    Ad
    कार्यक्रम का उद्घाटन विद्यालय की प्रधानाचार्य डॉ. रूचि शर्मा और बच्चों के दादा-दादी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर के किया। कार्यक्रम के उद्घाटन के पश्चात दादी-दादी तथा अभिभावकों को संबोधित करते हुए डॉ. रूचि शर्मा ने कहा कि बचपन का मधुर समय जितना माता-पिता की गोद में बीतता है, उतना ही दादा-दादी व नाना-नानी के सानिध्य में भी बीतता है। दादा-दादी द्वारा दिये गये प्यार और स्नेह का कोई मेल नहीं है। अधिकांश दादा-दादी अपने पोता-पोती के साथ एक विशेष बंधन को साझा करते हैं। यह भी सच है कि बच्चों के प्रारंभिक विकास के लिए परिवार के बड़े-बुजुर्गों का सानिध्य अत्यंत उपयोगी सिद्ध होता है। दादा-दादी बच्चों को केवल लाड़-प्यार ही नहीं करते बल्कि उनके नैतिक और मानसिक विकास को भी बढ़ावा देते हैं।
    Ad
    कार्यक्रम की शुरुआत में देश भक्ति की भावना से ओतप्रोत सूफी गीत का कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। नर्सरी कक्षा के बच्चों द्वारा “आज सन्डे है” को बहुत ही मनमोहक तरीके से गीत के माध्यम से प्रस्तुत किया गया। के जी कक्षा के बच्चों द्वारा “पढोगे लिखोगे बनोगे नवाब” सुन्दर एवं सजीव नृत्य को प्रस्तुत किया गया। कक्षा एक के बच्चों ने “मिक्स हिंदी सोंग” गीत को प्रस्तुत कर वहाँ उपस्थित अपने दादा-दादी व नाना नानी का मन मोह लिया। 
    Ad
    कक्षा दो के बच्चों ने “प्रदुषण रोकने” के विषय पर कार्यक्रम प्रस्तुत कर उपस्थित लोगों को एक सन्देश दिया हमें खुद के लिए एवं आने वाली पीढ़ी के लिए प्रदुषण की रोकथान बहुत जरुरी है। प्लास्टिक की रोकथाम के लिए सन्देश वाला कार्यक्रम और कक्षा पांच के बच्चों द्वारा “जयकारा” गीत प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम में आये हुए दादा- दादी व नाना-नानी ने भी अपने नाती-पोतों के साथ बिताये जा रहे खट्टे-मीठे अनुभवों को साझा किया और विद्यालय परिवार को इस तरह का कार्यक्रम आयोजित करने के लिए बधाई भी दिए। 
    Ad
    अंत में प्रधानाचार्य डॉ. रूचि शर्मा ने सभी अतिथियों के प्रति धन्यवाद् ज्ञापित किया और बच्चों को संकल्प दिलाया गया कि सभी बुजुर्गों के प्रति सम्मान करेंगे। मन बचन एवं कर्म से अपने बड़ों का आदर करेंगे तथा माता-पिता, दादा-दादी, नाना-नानी के प्रति कृतज्ञ रहेंगे।

    Ad


    Advt

    No comments