• Breaking News

    Jaunpur : कम राजस्व वसूली होने पर डीएम ने जतायी नाराजगी


    • कर-करेत्तर राजस्व वसूली में तेजी लाकर अपने-अपने लक्ष्यों को पूर्ण करें अधिकारी : डीएम

    जौनपुर। डीएम दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में कर-करेत्तर राजस्व वसूली, धारा 116, 24, 133, वरासत तथा तालाब आवंटन की समीक्षा बैठक आयोजित हुई, जिसमें डीएम ने विभागवार गहन समीक्षा कर कर-करेत्तर राजस्व वसूली पर विशेष ध्यान दिये जाने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।

    डीएम ने समीक्षा बैठक में व्यापारकर, स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन, परिवहन तथा आबकारी विभाग द्वारा कर-करेत्तर राजस्व वसूली कम पाये जाने पर सम्बन्धित अधिकारियों को कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए निर्देशित किया कि अपने-अपने विभाग के वार्षिक/मासिक लक्ष्यों के सापेक्ष शत-प्रतिशत वार्षिक मासिक उपलब्धि हासिल करना सुनिश्चित करें।

    उन्होंने उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि आपसी समन्वय स्थापित कर प्रवर्तन कार्य में तेजी लायें और राजस्व वसूली लक्ष्य के अनुरूप पूर्ण करें, अन्यथा सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी, जिसके लिये वह स्वयं जिम्मेदार होंगे। उन्होंने वार्षिक लक्ष्य के सापेक्ष कम उपलब्धि हासिल किये जाने वाले अधिकारियों को निर्देशित किया कि प्रत्येक दशा में अपने-अपने लक्ष्य पूर्ण कर लिये जायें।

    बैठक में डीएम ने राजस्व वसूली बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वसूली का लक्ष्य समय से पूर्ण किया जाए। डीएम ने समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि धारा 116, 24 तथा 133 के मुकदमों के निस्तारण में तीव्रता लाए। उन्होंने कहा कि समस्त उप जिलाधिकारी प्रत्येक दिन कम से कम 10 से 12 मुकदमों का निस्तारण करें।

    उन्होंने कहा कि तालाब आवंटन का लक्ष्य समय से पूर्ण किया जाए तथा 10 फरवरी तक समस्त अविवादित वरासत के मामलों का निस्तारण किया जाए। डीएम ने समाधान दिवस में आने वाली शिकायतों को समय से निस्तारित करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी (वित्त राजस्व), भू राजस्व अधिकारी, समस्त उप जिलाधिकारियों, तहसीलदारों को निर्देश दिया कि वे अपनी अपनी कोर्ट का विस्तृत निरीक्षण कर निरीक्षण टिप्पणी उपलब्ध कराएं।

    Ad

    Ad

    Ad

    No comments