• Breaking News

    Jaunpur : स्वामी जी के विचारों को आत्मसात करें विद्यार्थी : डॉ. मनोज मिश्रा


    • पीयू में मनायी गयी स्वामी विवेकानन्द जयंती

    जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में   स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर रविवार को राष्ट्रीय युवा दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर स्वामी जी के व्यक्तित्व एवं विचारों पर केंद्रिंत संवाद विद्यार्थियों से स्थापित किया गया।
    Jaunpur : स्वामी जी के विचारों को आत्मसात करें विद्यार्थी : डॉ. मनोज मिश्रा

    आयोजित संवाद में बतौर मुख्य अतिथि अनुप्रयुक्त सामाजिक विज्ञान एवं मानविकी संकाय के अध्यक्ष डॉ. मनोज मिश्रा ने कहा कि स्वामी जी ने सबसे पहले विश्व बंधुत्व, हिन्दू धर्म की विराटता तथा भारतीय संकृति के विराट सार्वभौमिक स्वरुप से सम्पूर्ण विश्व को परिचित कराया। उन्होंने कहा कि स्वामी जी के विचार विश्व में स्थाई शांति की दिशा में सार्थक प्रयास साबित हो सकते हैं। उनके विचारों को आत्मसात करने वाला कोई भी व्यक्ति कभी भी अनैतिक और राष्ट्रविरोधी कृत्य नहीं कर सकता। आज विद्यार्थियों को स्वामी जी विचारों को आत्मसात करने की जरुरत है। उन्होंने  कहा कि विवेकानन्द जी का सम्पूर्ण व्यक्तित्व युवाओं के लिए प्रेरणारुाोत है। उन्होंने विद्यार्थियों से स्वामी जी के विचार को साझा करते हुए कहा कि जब तक जीना है तब तक सीखते जाना है, यही अनुभव ही जगत में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक है।

    इस अवसर पर एनएसएस के कार्यक्रम अधिकारी डा. विनय वर्मा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी के विचार हम सभी स्वयंसेवक एवं स्वयंसेविकाओं के लिए आधार  वाक्य  है। उन्होंने उपस्थित स्वयंसेवकों से कहा कि स्वामी जी ने कहा था कि जो लोग तुम पर भरोसा करते हैं उन्हें कभी भी धोखा न दो। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के शिक्षक डॉ. आलोक दास, डॉ. सुधीर उपाध्याय, जया शुक्ला, प्रीति शर्मा, सत्यम उपाध्याय सहित विद्यार्थी उपस्थित रहे। संचालन शील निधि सिंह एवं धन्यवाद ज्ञापन विभागाध्यक्ष डॉ. रजनीश भास्कर द्वारा किया गया।

    Advt.
    Advt.
    Advt.

    No comments