• Breaking News

    Jaunpur : पिता से मांगी थी रंगदारी, पुत्र को उतारा मौत के घाट

    • घटना के चौथे दिन शव सहित एक आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, दो फरार
    • मृतक के पिता से आरोपियों ने मांगी थी तीन लाख की रंगदारी

    विनय सिंह
    चंदवक, जौनपुर। क्षेत्र के कोइलारी गांव निवासी युवक की गाजीपुर की सीमा पर उसके ही मित्रों ने चार दिन पहले गला रेत कर हत्या कर शव थोड़ी दूर नहर के किनारे गाड़ दिया। इसके बाद युवक की ही मोबाइल से उसके पिता को कॉल कर तीन लाख रुपये की मांग की जिसकी सूचना भुक्तभोगी ने पुलिस को दी। पुलिस ने सर्विलान्स के जरिए एक आरोपी को गिरफ्तार कर उसकी निशानदेही पर शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना में शामिल दो अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है।

    बताते हैं कि कोइलारी गांव निवासी सुरेंद्र प्रताप सिंह बिट्टू (24) पुत्र अजय कुमार सिंह विगत शनिवार को घर से गेहूं पिसवाने बाइक से निकला लेकिन वह वापस घर नहीं पहुंचा तो उसके पिता ने पुलिस को सूचना दी। दूसरे दिन युवक की ही मोबाइल से उसके पिता को काल कर तीन लाख रुपये की रंगदारी मांगी न देने पर हत्या करने की धमकी दी। जिसकी लिखित सूचना भुक्तभोगी ने पुलिस को दी। पुलिस सर्विलांस जरिए तलाश कर रही थी कि एक आरोपी अमरौना गांव निवासी सोनम राजभर पुत्र राम किशुन पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस ने उसकी निशान देही पर गाड़े गए शव को गाजीपुर की सीमा से नहर के किनारे से पुलिस ने बरामद कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि हम व गांव निवासी दिलीप राजभर पुत्र सोनू, कोइलारी गांव निवासी चंदन सिंह रवि पुत्र देव प्रकाश सिंह तथा सुरेंद्र सिंह बिट्टू आपस में घनिष्ठ मित्र थे शनिवार को तराव गांव के घुट्टा जो बहन की पाही है पर जुटे और थोड़ी दूर करहट में रवि के कहने पर सभी ने मिलकर उसकी हत्या कर दी और शव नहर किनारे गाड़ दिया। दूसरे दिन रवि ने ही उसकी मोबाइल से उसके पिता को तीन लाख रुपये के लिए फोन किया था।

    इस संबंध थानाध्यक्ष दिग्विजय सिंह ने बताया कि मुख्य आरोपी रवि सिंह के मिलने पर ही हत्या के मूल कारण का खुलासा हो सकेगा।

    Advt
    Advt.
    Advt.

    No comments