• Breaking News

    Jaunpur : 222 पंजीकृत बच्चों के सापेक्ष मात्र 9 बच्चे मिलें उपस्थित, डीएम ने दिया यह निर्देश

    जौनपुर। डीएम दिनेश कुमार सिंह द्वारा प्राथमिक विद्यालय कुरनी विकास खण्ड मड़ियाहूं का औचक निरीक्षण किया गया। इस दौरान शिक्षामित्र मीरा सिंह 17 का पहाड़ा न सुना सकी जिस पर डीएम ने शिक्षामित्र की सेवा समाप्ति के निर्देश दिये। विद्यालय में 222 पंजीकृत बच्चों के सापेक्ष मात्र 09 बच्चे उपस्थित मिलें जिस पर डीएम ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए अध्यापकों को बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने के निर्देश दिया। उक्त विद्यालय में अध्यापकों की संख्या बच्चों की संख्या के सापेक्ष ज्यादा मिली जिस पर बीएसए को निर्देश दिया कि बच्चों की संख्या के सापेक्ष ही शिक्षक रखे जाये।  प्रभारी प्रधानाध्यापिका श्यामिनी सिंह को बाउण्ड्री वाल के किनारे पेड़ लगवाने तथा बच्चों को टाट पटटी पर खाना खिलाने के निर्देश दिये।
    Jaunpur : 222 पंजीकृत बच्चों के सापेक्ष मात्र 9 बच्चे मिलें उपस्थित, डीएम ने दिया यह निर्देश

    दीपक शुक्ला, मुंगराबादशाहपुर : डीएम द्वारा विकासखण्ड मुंगराबादशाहपुर के कुड़रिया ग्राम में मुसहर बस्ती का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओं के बारे में ग्रामीणों से जानकारी प्राप्त की।  ग्रामीणों ने बताया कि कोटेदार राजाराम द्वारा निर्धारित दर पर राशन दिया जाता है। उन्होंने निरीक्षण के दौरान पाया कि गांव में शौचालय निर्माण के पैसे लाभार्थियों के खाते में न भेजकर, ठेकेदार के द्वारा शौचालय का निर्माण कराया गया है जिस पर डीएम ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए ग्राम प्रधान राजेश कुमार पटेल एवं सचिव के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिये। इस दौरान ग्रामीणों ने बताया कि मनरेगा के तहत कार्य एक वर्ष से नहीं मिल रहा है। सोनी पत्नी मनोज से डिलीवरी के वक्त महेशगंज स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर 600 रूपया नर्स एवं दाई के द्वारा लिये जाने की बात उनके समक्ष आयी जिसे कल तक वापस करने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी ग्रामीणों से कहा कि बस्ती में शाम को एक अध्यापक पढ़ाने के लिए भेजा जायेगा जिससे सभी उम्र के लोग शिक्षा ले सकते है। 

    डीएम ने दुलारी देवी, गामा, उर्मिला, पकड़ु को कम्बल भी ओढ़ाया। इस दौरान ग्रामीणों ने शिकायत की कि खाद विक्रेता गंगाराम एवं सूर्यमणि त्रिपाठी के द्वारा निर्धारित मूल्य से अधिक पैसे लिए जाते है जिस पर डीएम ने एसउीएम अमिताभ यादव एवं जिला कृषि अधिकारी अमित चौबे को निर्देश दिया कि सम्बन्धित दुकानदार का लाईसेंस निरस्त करें और लाइसेंस नहीं है तो एफआईआर दर्ज कराये। डीएम के निर्देश के क्रम में जिला कृषि अधिकारी, नायब तहसीलदार कृष्ण राज सिंह एवं थानाध्यक्ष सै. हुसैन मुन्तजर की संयुक्त टीम द्वारा निरीक्षण कर जायसवाल खाद भण्डार एवं तिवारी खाद भण्डार कुड़रिया का लाइसेंस निरस्त करने के प्रक्रिया की गयी। डीएम ने जनपद के समस्त खाद व्यवसायियों को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि जो भी निर्धारित मूल्य से ज्यादा पैसे लेते हुए पाया जायेगा उसका लाइसेन्स निरस्त कर दिया जायेगा। किसी भी दशा में निर्धारित मुल्य 266.50 रुपये प्रति बोरी से अधिक न लिये जाये।

    Advt
    Advt
    Advt

    No comments