• Breaking News

    जौनपुर : विज्ञान में बढ़ना चाहिए हिंदी का प्रयोग : प्रो. अनीता #NayaSabera

    नया सबेरा नेटवर्क
    जौनपुर। हिंदी दिवस के अवसर पर वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय स्थित प्रो. राजेंद्र सिंह रज्जू भइया भौतिकी विज्ञान अध्ययन एवं शोध संस्थान में एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

    इस अवसर पर संगोष्ठी में मुख्य वक्ता के रुप में इलाहाबाद विश्वविद्यालय की विज्ञान की प्रोफ़ेसर एवं हिंदी साहित्य की मर्मज्ञ प्रो. अनीता गोपेश ने विद्यार्थियों को संबोधित किया।

    प्रो. गोपेश ने संस्थान के छात्रों को हिंदी की महत्ता एवं भूमिका के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि हम देश विदेश के किसी भी हिस्से में जाएं वहां हमारी पहली पहचान मौलिक भाषा हिंदी के कारण होती है। आज कई विदेशी विश्वविद्यालयों में हिंदी भाषा के विभाग स्थापित हो रहे हैं। हिंदी भाषा एवं साहित्य के सौंदर्य बोध को महसूस एवं स्थापित करने की जरुरत है। भारत की बाहर भारतीयता की पहली पहचान हिंदी है। विज्ञान में सरल हिंदी का प्रयोग अधिक से अधिक हो इसके लिए सरकार, संस्था और व्यक्तिगत स्तर पर प्रयास बढ़ाने होंगे। हमें हिंदी पर गर्व करना चाहिए और इसके प्रयोग में हीन भावना का त्याग करना चाहिए।

    इस अवसर पर इलाहाबाद विश्वविद्यालय के प्रो. कृष्ण पाल सिंह ने मुख्य वक्ता का परिचय कराते हुए विषय की प्रस्तावना रखी। संस्थान के निदेशक डॉ. प्रमोद कुमार यादव ने स्वागत करते हुए हिंदी के शुद्ध एवं अधिक प्रयोग के लिए प्रेरित किया।

    इस अवसर पर संस्थान के शिक्षक डा. गिरिधर, डा. पुनीत, डा. अजीत, डा. नितेश, डा. श्याम, डा. धीरेंद्र व अन्य लोग उपस्थित रहे।

    Advt


    Food Pay | pure veg food delivery junction | Call now : 1800 5726 244 | Delivery within 30 min. & 10% Discount on Online pre payment | FREE HOME DELIVERY every Rs. 500/-
    Advt

    No comments