• Breaking News

    IPL FINAL : इस टीम ने अपने नाम किया खिताब

    हैदराबाद। रोमांचक मुकाबले में आखिरकार मुम्बई इन्डियन्स ने चेन्नई सुपरकिंग को हराकर ट्राफी पर कब्जा कर लिया। 

    तेज गेंदबाज दीपक चाहर की अगुवाई में गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन से मौजूदा चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स ने आईपीएल फाइनल में रविवार को यहां पहले बल्लेबाजी के लिए उतरे मुंबई इंडियंस को आठ विकेट पर 149 रन ही बनाने दिये. कीरेन पोलार्ड (25 गेंदों पर नाबाद 41, 4X3, 6X3) ने मुंबई की तरफ से सर्वाधिक रन बनाये. जबकि, क्विंटन डिकाक ने चार छक्कों की मदद से 29 रन बनाये लेकिन उसकी टीम ने नियमित अंतराल में विकेट गंवाये. 


    चाहर ने 26 रन देकर तीन विकेट लिये जबकि इमरान ताहिर (23 रन देकर दो) और शार्दुल ठाकुर (37 रन देकर दो) ने भी अच्छी गेंदबाजी की. चाहर की इसलिए तारीफ करनी होगी क्योंकि डिकाक ने उनके दूसरे ओवर में तीन छक्कों की मदद से 20 रन बटोरे थे लेकिन इस तेज गेंदबाज ने बाकी तीन ओवर में केवल छह रन दिये. इनमें पारी का 19वां ओवर में भी शामिल है जिसमें उन्होंने चार रन दिये. 


    मुंबई और चेन्नई के बीच इससे पहले खेले गये तीन फाइनल में पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम विजयी रही और रोहित शर्मा ने भी टॉस जीतकर जब पहले बल्लेबाजी का फैसला किया तो किसी को हैरानी नहीं हुई, लेकिन पावरप्ले में मुंबई के दोनों सलामी बल्लेबाज पवेलियन में विराजमान थे. शार्दुल ने डिकाक को विकेटकीपर महेंद्र सिंह धौनी के हाथों कैच कराकर उनके तेवरों को ठंडा किया तो अगले ओवर में चाहर ने रोहित को भी विकेट के पीछे कैच देने के लिए मजबूर किया. 


    चाहर का यह ओवर मेडन रहा जिससे छह ओवर के बाद मुंबई का स्कोर दो विकेट पर 45 रन हो गया. सूर्यकुमार यादव (17 गेंदों पर 15) और इशान किशन (26 गेंदों पर 23) ने विकेट बचाने को तरजीह दी. बीच में चार ओवर में केवल 13 रन बने. धौनी ने 12वें ओवर में ताहिर को गेंद सौंपी और उन्होंने दूसरी गेंद पर ही सूर्यकुमार को बोल्ड कर दिया जबकि ठाकुर ने नये बल्लेबाज क्रुणाल पंड्या (सात) का अपनी ही गेंद पर दौड़ लगाकर लाजवाब कैच लिया. 


    पोलार्ड ने 15वें ओवर में ताहिर पर छक्का जड़कर टीम का स्कोर तिहरे अंक में पहुंचाया लेकिन दक्षिण अफ्रीकी लेग स्पिनर ने इसी ओवर में किशन को आउट करके आईपीएल 2019 में ‘पर्पल कैप' अपने नाम पर तय की. यह ताहिर का 26वां विकेट था और उन्होंने हमवतन कैगिसो रबाडा (12 मैचों में 25) को पीछे छोड़ा.


    हार्दिक पंड्या (दस गेंदों पर 16) जब चार रन पर थे तब सुरेश रैना ने उनका कैच छोड़ दिया. ठाकुर के इस ओवर में पोलार्ड और हार्दिक ने एक-एक छक्के की मदद से 16 रन बटोरे. चाहर ने हालांकि अगले ओवर में हार्दिक को पगबाधा आउट करके चेन्नई विशेषकर रैना को राहत पहुंचायी. मुंबई ने अंतिम दो ओवरों में केवल 13 रन बनाये और इस बीच तीन विकेट गंवाये.

    No comments