• Breaking News

    भगवान बुद्ध का जन्मोत्सव : इन राशियों पर बरसेगी लक्ष्मी, 502 साल बाद बन रहा दुर्लभ संयोग

    भगवान बुद्ध के जन्मोत्सव का पर्व बुद्ध पूर्णिमा प्रत्येक वर्ष वैशाख मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। बुद्ध पूर्णिमा इस बार 18 मई (शनिवार) को पड़ रही है। ज्योतिष के अनुसार इस साल यह पर्व एक दुर्लभ संयोग में मनाया जाएगा। इससे पूर्व 502 साल पहले यह दुर्लभ संयोग पड़ा था।

    ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक, बुद्ध पूर्णिमा का पर्व शनिवार को पड़ रहा है। इस दिन मंगल और राहु ग्रह मिथुन राशि में रहेंगे। उनके ठीक सामने शनि और केतु ग्रह धनु राशि में विराजमान होंगे। ये एक दुर्लभ योग है, जो 502 साल बाद बन रहा है। इससे पहले ऐसा संयोग मई 1517 में बना था।

    205 वर्ष बाद बनेगा ऐसा योग
    बुद्ध पूर्णिमा का पर्व इस बार इसलिए भी खास हैं, क्योंकि ग्रह और नक्षत्र के योग जो बन रहे हैं, अब ऐसा 205 वर्ष बाद यानी 2224 को बनेगा। इस साल बुद्ध पूर्णिमा के दिन समसप्‍तक योग बनने से यह दिन बेहद मंगलकारी हो गया है। समसप्‍तक योग में शुभ कार्यों के स्वामी देवगुरु बृहस्पति एवं सूर्यदेव आमने-सामने होंगे।

    जानिए राशियों पर कैसा पड़ेगा प्रभाव
    बुद्ध पूर्णिमा पर बन रहे समसप्‍तक योग राशियों के अनुसार अलग-अलग प्रभाव छोड़ेंगे। जहां कुछ राशियों के लिए यह समय बेहद लाभकारी और शुभ होगा, वहीं कई राशियों के लिए मुश्किलभरा समय हो सकता है। मिथुन, धनु, कर्क और मकर राशि के लोगों को संभलकर रहना होगा। छोटी सी लापरवाही भी बड़ी परेशानी खड़ी कर सकती है।

    दूसरी तरफ सिंह, कन्या, कुंभ और मीन राशि के लोगों के लिए आने वाला समय शुभ रहने वाला है। इस शुभ अवसर पर भूमि, भवन और वाहन की खरीद के साथ ही पदभार ग्रहण करना बहुत ही शुभ माना जाता है।

    No comments